अल्पसंख्यक वाले बयान पर गेंदबाज रहे पीएम इमरान को भारतीय बल्लेबाज कैफ ने दिया करारा जवाब

2018-12-26T12:41:03Z

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार अपने देश और भारत में अल्पसंख्यकों के हालत की तुलना करने की कोशिश की। उनके अल्पसंख्यक वाले बयान पर भारतीय बल्लेबाज कैफ ने उन्हें करारा जवाब दिया है।

इस्लामाबाद (पीटीआई)। गेंदबाज रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक हफ्ते के अंदर दूसरी बार अपने देश और भारत में अल्पसंख्यकों के हालत की तुलना करने की कोशिश की, उन्होंने अपने बयान में कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ एक जैसा व्यवहार किया जाता है लेकिन भारत में उनके हालात ठीक इसके विपरीत हैं। इमरान के इस बयान पर भारतीय बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने उन्हें बहुत ही करारा जवाब दिया है। कैफ ने अपने एक ट्वीट में कहा, 'पाकिस्तान में बंटवारे के वक्त लगभग 20 पर्सेंट अल्पसंख्यक थे अब वहां 2 पर्सेंट से भी कम हैं। दूसरी ओर अल्पसंख्यक आबादी आजादी के बाद से भारत में काफी बढ़ी है। अल्पसंख्यकों के साथ कैसा व्यवहार किया जाए इस पर लेक्चर देने वाला पाकिस्तान आखिरी देश होना चाहिए।

There were around 20% minorities at the time of Partition in Pakistan,less than 2% remain now. On the other hand minority population has grown significantly in India since Independence. Pakistan is the last country that should be lecturing any country on how to treat minorities. https://t.co/6GTr3gwyEa

— Mohammad Kaif (@MohammadKaif) 25 December 2018

जिन्ना के जयंती पर कही यह बात
मंगलवार को पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की जयंती के मौके पर, खान ने कहा कि जिन्ना ने पाकिस्तान को लोकतांत्रिक, न्यायपूर्ण और दयालु राष्ट्र के रूप में परिकल्पित किया था। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ एक जैसा व्यवहार किया जाता है लेकिन भारत में ऐसा देखने को नहीं मिलता है। बता दें कि एक हफ्ते में यह दूसरी बार है जब खान ने अपने देश और भारत में अल्पसंख्यकों के हालत की तुलना करने की कोशिश की है। इससे पहले शनिवार को इमरान ने कहा था कि हमारी सरकार मोदी को यह दिखाएगी कि देश में अल्संख्यकों के साथ कैसे व्यवहार किया जाता है।

पाकिस्तान : फिजूलखर्ची पर बयानबाजी करने वाले इमरान खान, घर से पीएम हाउस तक जाने के लिए करतें हैं हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.