ICC World Cup 2019 न्यूजीलैैंड ने श्रीलंका को 10 विकेट से हराया

2019-06-02T10:42:44Z

वर्ल्ड कप के अपने पहले मैच में न्यूजीलैैंड ने श्रीलंका को 10 विकेट से दी पटखनी। मैच में हेनरी और फग्र्युसन ने झटके 33 विकेट्स गुप्टिल और मुनरो ने हाफसेंचुरी जमाई

CARDIFF (AGENCY): आईसीसी क्रिकेट वल्र्ड कप में दो दिन लगातार दो लो स्कोरिंग मुकाबले खेले गए। शुक्रवार को जहां पाकिस्तान की टीम वेस्टइंडीज के सामने 105 रन पर ढेर हो गई थी तो वहीं दूसरे दिन शनिवार को श्रीलंकाई टीम न्यूजीलैैंड के खिलाफ महज 135 रन बनाकर आलआउट हो गई। इस मैच को न्यूजीलैैंड ने 10 विकेट से अपने नाम करते हुए वल्र्ड कप कैंपेन का शानदार आगाज किया। पहले उसके गेंदबाजों ने बेहद अनुशासित प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को सस्ते में समेटा और फिर ओपनर मार्टिन गुप्टिल (73) और कोलिन मुनरो (58) ने अनबीटेन पार्टनरशिप करते हुए टीम को बड़ी जीत दिला दी। गुप्टिल ने 51 गेंदों की पारी में 8 चौके और 2 छक्के लगाए, जबकि मुनरो ने 47 गेंदों में 6 चौके और एक छक्का जमाया।

30 ओवर भी नहीं खेल सका श्रीलंका
सोफिया गार्डेंस मैदान पर खेले गए इस मैच में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया और उनके गेंदबाजों ने उसे सही साबित करते हुए श्रीलंका को सिर्फ 29.2 ओवर्स में ही पवेलियन में लौटा दिया। 1996 की वर्ल्ड चैैंपियन टीम की तरफ  से सिर्फ  तीन बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू सके। उसके लिए कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने सबसे ज्यादा नॉटआउट 52 रन बनाए। मैट हेनरी ने श्रीलंका के टॉप-3 बल्लेबाजों को पवेलियन भेज उसकी नींव कमजोर की। उनके बाद बाकी गेंदबाजों ने हेनरी द्वारा बनाए गए प्रेशर का फायदा उठा श्रीलंका को बड़े स्कोर के आस-पास भी नहीं जाने दिया।
हेनरी ने बिखेरा टॉप ऑर्डर
हेनरी ने चार के कुल स्कोर पर लाहिरू थिरिमाने (4) को पवेलियन भेज श्रीलंका को पहला झटका दिया। कप्तान करुणारत्ने ने यहां से कुशल परेरा (29) के साथ मिलकर टीम को संभालने की कोशिश की, लेकिन यह जोड़ी 46 के कुल स्कोर से आगे नहीं जा पाई। हेनरी ने यहां कुशल को पवेलियन भेज टीम को दूसरी सफलता दिलाई। अगली ही गेंद पर हेनरी ने कुशल मेंडिस को मार्टिन गुप्टिल के हाथों कैच कराकर श्रीलंका को तीसरा झटका दिया। कप्तान करुणारत्ने एक छोर संभाल रहे लेकिन दूसरे छोर से साथ नहीं मिला। धनंडय डी सिल्वा (4), एंजेलो मैथ्यूज (0), जीवन मेंडिस (1) 60 के कुल स्कोर तक पवेलियन लौट लिए थे। यहां करुणारत्ने को थिसारा परेरा (27) का साथ मिला। दोनों ने टीम का स्कोर 100 के पार पहुंचाया। मिशेल सैंटनर ने परेरा की पारी का अंत कर करुणारत्ने को फिर अकेला कर दिया। परेरा के जाने के बाद कप्तान ने हाफसेंचुरी पूरी की। न्यूजीलैैंड के लिए हेनरी और फग्र्यूसन ने तीन-तीन विकेट लिए।
गेंदबाजी भी रही नाकाम
श्रीलंका की बल्लेबाजी ही नहीं, बल्कि गेंदबाजी भी निराशाजनक रही। कोई भी गेंदबाज प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं कर सका। गुप्टिल और मुनरो ने मलिंगा समेत सभी गेंदबाजों के खिलाफ आसानी से रन बनाए। मलिंगा तो खासे महंगे भी साबित हुए और उन्होंने 5 ओवर के स्पेल में 46 रन लुटा दिए। वहीं सुरंगा लकमल के 4 ओवर में 28 रन बटोरे गए।
करुणारत्ने के नाम खास अचीवमेंट
श्रीलंकाई कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने हार के बावजूद अपने नाम एक शानदार अचीवमेंट हासिल किया। वर्ल्ड कप के इतिहास में ऐसा दूसरी बार हुआ है जब किसी टीम के 10 खिलाड़ी आउट हो गए हों और सलामी बल्लेबाज (कैरिंग द बैट) नॉटआउट पवेलियन लौटा हो। इससे पहले 1996 के वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज के विकेटकीपर सलामी बल्लेबाज रिडले जैकब्स ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ  नॉटआउट 49 रन बनाए थे। अब वल्र्ड कप में कैरिंग द बैट के मामले में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज करुणारत्ने बन गए हैं। 31 वर्षीय करुणारत्ने ने 4 वर्ष बाद श्रीलंकाई वनडे टीम में वापसी की है। वो अंतिम बार पिछले वर्ल्ड कप (2015) में खेले थे।

ICC world cup 2019 : ये हैं सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले टाॅप 5 बल्लेबाज, क्रिस गेल बने नंबर 1

ओसेन थाॅमस ने 16 साल की उम्र में देखा था भाई को तड़प-तड़प कर मरते, बने WI क्रिकेट की नई सनसनी
46 ओवर्स ही चल सका पूरा मैच
03 हाफसेंचुरी जमाई गईं मैच में
03 श्रीलंकाई ही डबल फिगर में पहुंच



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.