जमशेदपुर में प्रेमी और दोस्तों के साथ मिलकर पत्नी ने पति को मार डाला

2019-01-20T10:18:55Z

JAMSHEDPUR: 12 जनवरी की रात हुई तपन दास की हत्या की गुत्थी शनिवार को पुलिस से सुलझा ली। पुलिस ने हत्या की आरोपी तपन दास की पत्‌नी स्वेता दास और उसके प्रेमी सुमित सिंह और उसके दोस्त को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पत्‌नी स्वेता ने ही पहले प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर तपन दास की गला दबाकर हत्या कर दी थी। मामले को छिपाने के लिए स्वेता ने तपन के शव को रात भर फ्रिज में बंद रखा। 13 जनवरी को फ्रिज को टेंपो पर लादकर नेशनल हाइवे 33 पर बड़ाबांकी सड़क के किनारे केबुल तार के लिए खोदे गए गड्ढे में फेंक दिया था। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया पत्‌नी स्वेता ने तपन की हत्या इसलिए कर दी क्योकि शराब के नशे में तपन पत्‌नी को पीटता था। बता दें कि तपन दास को यह बात मालूम थी कि स्वेता के किसी गैर मर्द के साथ संबंध है। पुलिस ने मृतक तपन दास की पत्‌नी श्वेता दास, प्रेमी सुमीत कुमार सिंह व प्रेमी के दोस्त सोनू लाल को गिरफ्तार कर शनिवार को कोर्ट में पेश किया जहां से तीनों को केंद्रीय कारागार घाघीडीह भेज दिया गया है। पुलिस फरार टेपों चालक अभिषेक राजू उर्फ अन्ना की तलाश कर रही है। प्रेस कांफ्रेस में एसएसपी अनूप बिरथरे, सिटी एसपी प्रभात कुमार, ग्रामीण एसपी सुभाष चंद्र जाट रहे।

दर्ज कराई थी प्राथमिकी
एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि एमजीएम थाना अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 33 पर बड़ाबांकी गांव के पास सड़क के किनारे गढ़े में मिले तपन दास की हत्या के मामले में उसकी पत्‌नी श्वेता दास के बयान पर 13 जनवरी को थाने मामला दर्ज कराया गया था। महिला ने अपना साक्ष्य छिपाने के लिए ही थाने में मामला दर्ज कराया। वह पुलिस को उलझाने के लिए कहा कि पति तपन दास 12 जनवरी को घर से डेढ़ लाख रुपये लेकर निकले थे। घर से निकलने से पहले उन्होंने कहा था कि पैसे किसी को पेमेंट करना है। इसके बाद वह घर नहीं लौटे। एसएसपी ने बताया कि एमजीएम थाना क्षेत्र में शव मिलने के बाद सिटी एसपी प्रभात कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। यह टीम दो दिन के अंदर ही मामले का खुलासा कर दिया।

सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल ने खोला राज
एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि पुलिस ने जब घोड़ाबांधा स्थित शमशेर रेसीडेंसी में लगे सीसीटीवी ने हत्या की राज को खोलने में मदद की। इसके अलावा हत्या के समय प्रयुक्त मोबाइल जिसमें महिला व उसके प्रेमी के बीच हुई बातचीत पूरी तरह कैद है। पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज को खंगाला तो उसमें युवकों का फ्लैट में आने-जाने के अलावा टेंपो में फ्रिज को ले जाते हुए दिखाया गया। जब फ्रिज के बारे में महिला से पूछताछ की गयी तो पहले तो वह बरगलाने की कोशिश की, लेकिन बाद में वह टूट गयी और घटना के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

फेसबुक से श्वेता व सुमीत की हुई थी दोस्ती
फेसबुक के माध्यम से श्वेता दास का सुमीत सिंह से दोस्ती हुई। दोस्ती इतनी गहरी हो गयी कि वह प्रेम में बदल गयी और दोनों को एक दूसरे के बिना रहना मुश्किल हो गया। शादी का श्वेता दास का तपन दास से शादी का आठ साल हो गया था, एक सात साल की बच्ची भी है। इसके बावजूद फेसबुक की दोस्ती इतनी मजबूत हो गयी कि वह अपने पति की ही हत्या करवा दी।

फ्रिज व टेंपो चालक की तलाश
एसएसपी ने बताया कि जिस फ्रिज में शव को छिपाकर एमजीएम के बड़ाबांकी में फेंका गया था। उस फ्रिज को अज्ञात चोर चुरा ले गया। जबकि जिस टेंपो में शव को लाया गया था। उस टेंपो चालक का नाम पता चल गया है। पुलिस अब फ्रिज व टेंपो चालक की तलाश कर रही है।

बरामद सामान

घटना में प्रयुक्त मोबाइल - तीन

मोटरसाइकिल - एक

सीसीटीवी फुटेज का डीवीडी - एक

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.