एक रात में ही दुकान के सामने से हटी मिट्टी लो वोल्टेज हुआ छूमंतर

2019-06-20T06:00:42Z

- लोगों ने डीजे आईनेक्स्ट और मध्यांचल एमडी को बोला थैंक्स

LUCKNOW: शारदा नगर में रहने वाले प्रदीप टंडन ने कल्पना भी नहीं की होगी कि जिस लो वॉल्टेज की समस्या से वह पिछले दो माह से पीडि़त हैं और कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है, वहीं बिजली महकमे के लोग उन्हें खुद फोन करेंगे और एक रात में ही उनकी समस्या को दूर कर देंगे। दैनिक जागरण आईनेक्स्ट के प्रोग्राम हाकिम हाजिर में आए मध्यांचल एमडी संजय गोयल से सीधे शिकायत दर्ज कराने के बाद बड़ा असर हुआ और लो वॉल्टेज की समस्या दूर हो गई। प्रदीप ने दैनिक जागरण आईनेक्स्ट के साथ मध्यांचल एमडी संजय गोयल को थैंक्स बोला है। यह तो महज एक उदाहरण हैं, लेकिन हकीकत यही है कि हाकिम हाजिर प्रोग्राम में शिकायत दर्ज कराने वाले ज्यादातर लोगों को बिजली संबंधी समस्या से अब राहत मिल चुकी है।

ये शिकायतें हुई दूर

पहला केस (फोटो)

शिकायत-शारदा नगर निवासी प्रदीप ने लो वॉल्टेज की शिकायत दर्ज कराई थी।

यह रहा असर-शाम को ही बिजली विभाग से पहले उनके पास फोन पहुंचा, फिर पूरी टीम मौके पर गई। टीम तब तक मौके से नहीं हटी, जब तक लो वॉल्टेज की समस्या दूर नहीं हो गई।

वर्तमान स्थिति-उपभोक्ता को मिली राहत

दूसरा केस

रात में ही हटने लगे मिट्टी के ढेर

शिकायत-लालकुआं निवासी राकेश जायसवाल ने शिकायत दर्ज कराई थी कि अंडरग्राउंड केबिल कार्य की खुदाई के दौरान निकली मिट्टी को उनकी दुकान के सामने डाल दिया गया है।

यह रहा असर-एमडी से मिले निर्देश के बाद देर रात ही टीम ने मिट्टी के ढेर को हटाना शुरू कर दिया।

वर्तमान स्थिति-आधे से अधिक मिट्टी के ढेर हटे, उपभोक्ता खुश।

तीसरा केस

शिकायत-जापलिंग रोड निवासी रोहित सिंह ने मीटर तेज भागने के कारण बिल अधिक आने की शिकायत दर्ज कराई थी।

यह रहा असर-राजभवन ईई ने खुद उपभोक्ता से बात की और मीटर चेक कराने की दिशा में कदम बढ़ाए।

वर्तमान स्थिति-मीटर चेकिंग का कार्य प्रोसेस में

चौथा केस

शिकायत-राजाजीपुरम निवासी नंदू मिश्रा ने जर्जर बिल पोल के स्थान पर नया पोल नए स्थान पर लगाए जाने की मांग रखी थी।

यह हुआ असर-महकमे के अधिकारियों ने उपभोक्ता से कांटेक्ट किया और सारी डिटेल्स नोट कीं।

वर्तमान स्थिति-पोल को चेंज करने का कार्य प्रोसेस में

पांचवां केस

शिकायत-डालीबाग निवासी अनूप मिश्रा ने तिलक मार्ग में अक्सर लाइट जाने संबंधी शिकायत दर्ज कराई थी

यह हुआ असर-ईई राजभवन खुद मौके पर गए और कारणों की जांच की

वर्तमान स्थिति-कारणों को दूर करने की कवायद शुरू

-----------------------------------

एमडी के पास भेजा मैसेज

दरअसल में, एमडी गोयल ने सभी उपभोक्ताओं की शिकायतें खुद अपनी नोट बुक में नोट की थीं, जो शिकायतें ज्यादा गंभीर थीं, उन उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर भी एमडी ने लिखे थे। डीजे आईनेक्स्ट ऑफिस से ही उन्होंने संबंधित सबस्टेशनों के अधिकारियों को शिकायतें ट्रांसफर कर दी थीं और पूरी रिपोर्ट मांगी थी। असर यह रहा कि मंगलवार रात से ही शिकायतों को दूर करके अधिकारियों ने अपडेट स्थिति मैसेज के माध्यम से एमडी को भेजी।

मांगी ट्रिपिंग की रिपोर्ट

हाकिम हाजिर प्रोग्राम में अधिकांश शिकायतें ट्रिपिंग से जुड़ी हुई आई थीं। इसे ध्यान में रखते हुए एमडी ने सभी सबस्टेशनों से ट्रिपिंग संबंधी रिपोर्ट मांगी है, जिससे यह पता लगाया जा सके कि पिछले दस दिन में फॉल्ट होने की वजह से बार-बार लाइट गुल हुई है या अन्य कारण से।

वर्जन

जो भी कंप्लेंट आई थीं, उन पर काम शुरू कर दिया गया है। कुछ कंप्लेंट तो शार्ट आउट भी कर दी गई हैं। प्रयास यही है कि ट्रिपिंग की समस्या उत्पन्न न हो।

संजय गोयल, एमडी, मध्यांचल डिस्कॉम


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.