COVID-19 रोगियों में रेमेडिसविर दवा से हो रहा सुधार, भारत ने इमरजेंसी यूज की दी परमीशन

2020-06-02T16:31:39Z

भारत में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या 198706 पहुंच गई है। ऐसे में बढते मामलाें को देखते हुए भारत ने रीमेडिसविर दवा के प्रयोग को मंजूरी दे दी है। जानें क्या है पूरा मामला...

बंगलुरू (रायटर)। भारत सरकार ने मंगलवार को कहा कि उसने COVID-19 रोगियों के उपचार में आपातकालीन उपयोग के लिए गिलियड साइंसेज इंक के एंटीवायरल ड्रग रिमेडीसविर को मंजूरी दे दी है। औपचारिक चिकित्सा परीक्षणों में कोरोना वायरस रोगियों में सुधार दिखाने वाली रेमेडिसविर पहली दवा है। इसे पिछले महीने यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन ग्रांट किया गया था और जापानी हेल्थ रेगुलेटर द्वारा इसे मंजूरी मिल गई है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने एक ईमेल बयान में कहा, रेमेडिसविर की 5 खुराक को पहली जून को मंजूरी दी गई है।

रोगियों में मामूली लाभ दिखा था जिन्हें पांच दिनों का कोर्स दिया गया था

मंगलवार तक भारत में कोरोना वायरस के 198,706 मामले हैं और 5,598 मौतें दर्ज की गई हैं। गिलियड साइंसेज ने सोमवार को रिपोर्ट दी थी कि रेमेडीसविर ने कोरोना वायरस रोगियों में मामूली लाभ दिखा था जिन्हें पांच दिनों का कोर्स दिया गया था। यूरोपीय और दक्षिण कोरियाई अधिकारियों ने भी रेमेडीसविर को देखा, दक्षिण कोरियाई स्वास्थ्य अधिकारियों ने पिछले शुक्रवार को कहा कि वे दवा के आयात का अनुरोध करेंगे।

Posted By: Shweta Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.