India Vs Bangladesh Pink Ball Test जानिए टेस्‍ट क्रिकेट में किसने फेंकी पहली बार पिंक बॉल कौन था पहला विकेट टेकर

2019-11-20T17:46:34Z

India vs Bangladesh Pink Ball Test भारत बनाम बांग्लादेश के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुक्रवार से कोलकाता में खेला जाएगा। यह टीम इंडिया का पहला पिंक बाॅल टेस्ट होगा। पिंक बाॅल टेस्ट का इतिहास चार साल पुराना है। आइए जानें किस गेंदबाज ने फेंकी थी पहली पिंक बाॅल

कानपुर। India vs Bangladesh Pink Ball Test भारत बनाम बांग्लादेश के बीच पहला पिंक बाॅल टेस्ट 22-26 नवंबर के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला जाएगा। यह डे-नाइट टेस्ट होगा, जिसको लेकर खिलाड़ी के साथ-साथ फैंस भी काफी एक्साइटेड हैं। भारत में और टीम इंडिया का यह भले ही पहला पिंक बाॅल टेस्ट हो, मगर टेस्ट क्रिकेट में यह बड़ा बदलाव चार साल पहले हो गया था। पहला पिंक बाॅल वाला डे-नाइट टेस्ट साल 2015 में ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था।
एडीलेड में हुआ था पहला पिंक बाॅल टेस्ट

चार साल पहले 27 नवंबर को ही क्रिकेट मैदान पर ऐसा ही कुछ अलग देखने को मिला था जिसकी कल्पना शायद किसी ने नहीं की थी। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमों के बीच 142 साल के टेस्ट इतिहास में पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेला गया। यह मैच एडीलेड में आयोजित किया गया था। यही नहीं इस टेस्ट में लाल की बजाए गुलाबी रंग की गेंद इस्तेमाल की गई थी। क्रिकेट में यह परिवर्तन इसलिए किया गया था ताकि टेस्ट क्रिकेट में दर्शकों की रुचि बढ़ाई जा सके।
किस गेंदबाज ने फेंकी पहली पिंक बाॅल
एडीलेड ओवल में खेला गया पहला डे-नाइट टेस्ट काफी खास था। इसे देखने के लिए कुल 47,441 दर्शक स्टेडियम आए थे। यह मुकाबला बल्लेबाजों के लिए नहीं बल्कि गेंदबाजों के लिए याद किया जाता है। इस मैच में गेंदबाजों ने धड़ाधड़ विकेट गिराए थे। उस वक्त न्यूजीलैंड टीम की कमान ब्रेंडन मैक्कुलम के हाथों में थी। मैक्कुलम ने टाॅस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया। कीवी टीम की तरफ से मार्टिन गप्टिल और टाॅम लेथम आपेनिंग करने आए और इधर कंगारुओं ने गेंद मिचेल स्टाॅर्क के हाथ में थमाई। इसी के साथ स्टाॅर्क टेस्ट इतिहास में पहली पिंक बाॅल फेंकने वाले गेंदबाज बन गए।

कौन बना पहला विकेट टेकर

पिंक बाॅल से पहला विकेट लेने वाले गेंदबाज जोश होजलवुड हैं। हेजलवुड ने कीवियों के खिलाफ पहले पिंक बाॅल टेस्ट में न्यूजीलैंड के ओपनर मार्टिन गप्टिल का शिकार किया। हेजलवुड ने गप्टिल को एलबीडब्ल्यू आउट किया था। इस मैच में गप्टिल एक रन बनाकर पवेलियन लौटे थे।
ऑस्ट्रेलिया बनी मैच जीतने वाली पहली टीम
कीवियों द्वारा दिए 187 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को यह लक्ष्य पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। टीम के सात विकेट गिर गए तब जाकर कंगारु टीम लक्ष्य तक पहुंच पाई। अंत में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने पहला डे-नाइट टेस्ट तीन विकेट से जीतकर इतिहास रच दिया। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट, पहला डे-नाइट टेस्ट, पहला वनडे और पहला टी-20 जीतने वाली टीम बन गई।

कुल 11 डे-नाइट टेस्ट खेले गए

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में अब तक कुल 11 डे-नाइट टेस्ट खेले गए।


Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.