India vs New Zealand 2nd Test Playing XI: क्राइस्टचर्च टेस्ट में बदल जाएगी प्लेइंग इलेवन, इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका

Updated Date: Fri, 28 Feb 2020 04:29 PM (IST)

India vs New Zealand 2nd Test Playing XI क्राइस्टचर्च टेस्ट के लिए भारतीय टीम में कुछ बदलाव हो सकते हैं। कप्तान विराट कोहली यह मुकाबला हर हाल में जीतना चाहेंगे ऐसे में वह प्लेइंग इलेवन में कुछ चेंज कर जीत की पटरी पर लौटना चाहेंगे।

कानपुर। India vs New Zealand 2nd Test Playing XI न्यूजीलैंड के खिलाफ क्राइस्टचर्च टेस्ट में विराट कोहली एक नई टीम के साथ मैदान में उतरेंगे। दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच हारने के बाद विराट 0-1 से पीछे हैं। अब अगर सीरीज में वापसी करनी है तो दूसरा टेस्ट हर हाल में जीतना होगा। हालांकि विराट अकेले टेस्ट तो जीता नहीं पाएंगे, ऐसे में अपनी सेना मजबूत करने के लिए उन्हें कुछ बड़े फैसले लेने होंगे। इस बात की पूरी उम्मीद है कि, कोहली क्राइस्टचर्च टेस्ट में एक नई प्लेइंग इलेवन के साथ उतरेंगे। आइए जानें इस बार किन-किन खिलाडिय़ों को मिल सकता है मौका।

मयंक और पृथ्वी से होगी ठोस शुरुआत की उम्मीद

वेलिंग्टन टेस्ट में दोनों पारियों में भारत को ठोस शुरुआत नहीं मिल पाई थी। भारत के दो कम अनुभवी ओपनर मयंक अग्रवाल और पृथ्वी शॉ गलत शॉट सलेक्शन के चक्कर में अपना विकेट गंवा बैठे। हालांकि इन दोनों बल्लेबाजों को शुरुआत अच्छी मिली थी मगर क्रीज पर ज्यादा देर टिक नहीं सके। जिसके बाद मध्यक्रम पर दबाव बढ़ा और वो भी फ्लॉप हुए। अब क्राइस्टचर्च टेस्ट में भारतीय टीम मैनेजमेंट दोनों ओपनर्स को एक और मौका देना चाहेगी। मयंक का शुरुआती टेस्ट सफर काफी शानदार रहा था। मयंक ने टेस्ट में इतने दोहरे शतक जड़ दिए कि उन्हें डबल सेंचुरी स्पेशलिस्ट बना दिया गया। मयंक को ऐसा ही कुछ दूसरे टेस्ट में करना होगा। वहीं पृथ्वी शॉ से भी भारतीय फैंस को काफी उम्मीदें होंगी।

पुजारा को दिखाना होगा पुराना अवतार

भारत को टेस्ट में किसी पारी में बड़ा स्कोर खड़ा करना है तो पुजारा का बल्ला चलना जरूरी है। टेस्ट में बेस्ट बल्लेबाज की बात करें तो टीम इंडिया के पास इस समय चेतेश्वर पुजारा हैं। पुजारा को दूसरी टीम इंडिया की दीवार भी कहा जाता है। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने न जाने कितनी बार डटकर एक मैराथन पारी खेली है। कीवियों के खिलाफ भी पुजारा से यही उम्मीद होगी। एक बार चेतेश्वर का पैर जम गया तो उन्हें क्रीज से हटा पाना मुश्किल हो जाएगा।

कोहली को लौटना होगा लय में

विराट कोहली की मौजूदा फॉर्म चिंता का विषय जरूर है। कोहली ने पिछली 20 इंटरनेशनल पारियों से एक भी शतक नहीं लगाया है। ऐसे में उन्हें यह सूखा जल्द से जल्द दूर करना होगा। रन मशीन विराट कोहली सालों से टीम इंडिया की नींव संभाले हैं। अगर भारत को शुरुआती झटके लग जाते हैं तो विराट कोहली चौथे नंबर पर आकर पारी को संभाल सकते हैं। ऐसा वह पिछले 10 सालों से करते आ रहे हैं। विराट एक चैंपियन खिलाड़ी हैं और वह परिस्थिति को समझते हुए बड़ी पारी खेलने में सक्षम हैं।

पंत को चाहिए खुद पर भरोसा

क्राइस्टचर्च टेस्ट में टीम इंडिया में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत की जगह लगभग पक्की है। पंत ने हालांकि पहले टेस्ट में बल्ले से थोड़ा बहुत योगदान दिया था मगर उन्हें जरूरत है खुद पर भरोसा रखने की। भारत के शुरुआत में जल्दी विकेट गिर जाते हैं तो मध्यक्रम में आकर पंत को जिम्मेदारी से पारी आगे बढ़ानी होगी।

जडेजा की हो सकती है वापसी

क्राइस्टचर्च टेस्ट में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में रवींद्र जडेजा की वापसी हो सकती है। जडेजा को अश्विन की जगह टीम में शामिल किया जाएगा, अश्विन पहले टेस्ट में गेंद और बल्ले से कुछ खास योगदान नहीं दे पाए थे।

तेज गेंदबाजों का दिखेगा जलवा

भारतीय टीम में तेज गेंदबाजी की कमान उमेश यादव, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के हाथों में होगी। यह तीनों इस समय बेहतरीन फॉर्म में हैं। शमी तो क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में अपनी तूफानी गेंदबाजी से बल्लेबाजों में दहशत पैदा कर रहे। वहीं उमेश और बुमराह भी किसी से कम नहीं हैं।

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन-

मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, रिषभ पंत, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.