आंख बंद करके बैटिंग कर रहा था कीवी धोनी ने कुलदीप से वैसी बाॅल डालने को कहा आैर मिल गया विकेट

2019-01-23T12:13:18Z

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच पहला वनडे मैच नेपियर में खेला जा रहा। इस मैच में मेजबान कीवी टीम 157 रन पर ही सिमट गर्इ। न्यूजीलैंड को सस्ते में समेटने में सिर्फ भारतीय गेंदबाजों को ही नहीं धोनी का भी अहम रोल रहा। जानिए कैसे

कानपुर। भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच नेपियर में खेला जा रहा। इस मैच में मेजबान टीम के कप्तान केन विलियमसन ने टाॅस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया हालांकि उनका यह डिसीजन गलत साबित हुआ। पूरी कीवी टीम 157 रन पर सिमट गर्इ। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट कुलदीप यादव ने लिए जिन्होंने चार बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। हालांकि कुलदीप को चौथा शिकार करने में विकेटकीपर एमएस धोनी ने मदद की।
ये आंख बंद करके रोकेगा, उधर से फेंक
धोनी ने स्टंप से पीछे कुलदीप को बताया कि कैसे बाॅल फेंकनी है। धोनी की ये सारी बात स्टंप माइक में कैद हो गर्इ। दरअसल न्यूजीलैंड के नौ विकेट गिरने के बाद क्रीज पर न्यूजीलैंड के गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट आैर टिम साउदी मौजूद थे। भारत को कीवी पारी समेटने के लिए बस एक विकेट चाहिए था। बोल्ट स्ट्राइक पर थे, आैर गेंदबाजी कुलदीप कर रहे थे। तभी बीच में धोनी चिल्लाते हैं कि, ये आंख बंद करके रोकेगा, दूसरी तरफ से डाल सकता है इसको। बस फिर क्या कुलदीप आेवर द विकेट आए आैर गुगली फेंकी। गेंद बोल्ट के बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए स्लिप में खड़े रोहित शर्मा के हाथों में चली गर्इ। इस तरह धोनी ने चालाकी से बोल्ट को आउट करवा दिया।

@msdhoni literally dictated that last wicket step by step before it happened. #NZvIND #Dhoni pic.twitter.com/QwPyuE1mEv

— Venkat Iyer (@Vencuts) 23 January 2019

न्यूजीलैंड का दूसरा सबसे कम स्कोर
न्यूजीलैंड का अपने घर पर भारत के खिलाफ पिछले 10 सालों में यह सबसे कम वनडे स्कोर है। मेजबान टीम को इतने सस्ते में समेटने में कुलदीप यादव आैर मोहम्मद शमी का अहम योगदान रहा। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप ने जहां चार शिकार किए वहीं शमी ने 3 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। इसके अलावा चहल को दो आैर जाधव को एक विकेट मिला। भारत के खिलाफ अपने ही घर पर कीवी टीम का पहली पारी में सबसे कम स्कोर 142 रन है। ये मैच साल 1996 में आॅकलैंड में खेला गया था। तब कीवी टीम ने पहले खेलते हुए 142 रन बनाए थे। जवाब में भारतीय टीम ने तीन विकेट खोकर यह लक्ष्य हासिल कर लिया था। उस वक्त टीम इंडिया के कप्तान मो अजहरुद्दीन थे।

Ind vs Nz : 10 साल में पहली बार न्यूजीलैंड ने वनडे में बनाया इतना कम स्कोर

Ind vs NZ: 5 वनडे मुकाबले जो दोनों टीमों के फैंस कभी नहीं भूलेंगे

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.