माैसम पहाड़ों पर राहत ताे हरियाणा में आफत मैदानी इलाकों में छाए रहेंगे बादल

2019-01-08T07:01:00Z

जम्मूकश्मीर आैर हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के लिए बड़ी खबर है। बीते दिनों की अपेक्षा आज लोगों को थोड़ी राहत मिल सकती है। वहीं हरियाणा व उसके आसपास के इलाके कोहरे में खोए रहेंगे। इसके अलावा चक्रवात पाबुक अब कमजोर पड़ रहा है। जानें आज के माैसम का मिजाज

* पहाड़ों पर बारिश बर्फबारी कम होगी
* वेस्टर्न डिस्टरबेंस बिगाड़ेगा हालात
* मैदानी इलाकों में छाए रहेंगे बादल
* घने कोहरे में खाेया रहेगा हरियाणा
* तूफान पाबुक पड़ने लगा कमजोर


कानपुर।
जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश आैर बर्फबारी से इन दिनों जनजीवन बेहाल है। यहां के कुछ इलाकों में इन दिनों सड़कों से छतों तक में बर्फ की परतें जमी हैं। इसके अलावा कुछ इलाकों में बारिश आैर ठंडी हवाएं भी अपने चरम पर हैं। कहीं-कहीं तो नलों में पानी तक जम रहा है।

हालात पटरी पर लाैटने की संभावना

हालांकि भारतीय माैसम विभाग के वैज्ञानिकों की मानें तो आज पहाड़ी वाले इलाकों में लोगों को एक तरह से राहत महसूस होगी। आज जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बीते दिनों की अपेक्षा बारिश आैर बर्फबारी कम होगी क्योंकि वेस्टर्न डिस्टरबेंस इन इलाकों से थोड़ा दूर हो गया है।

इन इलाकों में भारी बारिश के आसार

वहीं एक नए वेस्टर्न डिस्टरबेंस की वजह से अगले 24 घंटों में पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में बारिश आैर बर्फबारी होने के आसार बने हैं। इसके साथ उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में अधिकांश भाग में आज भी हल्के बादल छाए रहेंगें। यहां भी 10 और 11 जनवरी के दौरान भारी बारिश होने की संभावना है।  

 


हरियाणा में घना कोहरा छाया रहेगा
देश में कोहरे की बात करें तो आज हरियाणा अधिकांश स्थानों पर घना कोहरा छाया रहेगा। सुबह के समय यहां बाहर निकलने पर बेहद सावधानी बरतने की जरूरत है। इसके अलावा पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में भी कुछ जगहों पर कोहरा छाया रहेगा।
समुद्र की आेर न जाने की सलाह
वहीं चक्रवातीय तूफान पाबुक अंडमान और निकोबार द्वीपसमूहों को पार कर म्यांमार के तट की ओर बढ़ चुका है। अब यह पहले से कमजोर हो रहा है लेकिन इसकी वजह से आज भी म्यांमार, अंडमान सागर व उत्तरी बंगाल की खाड़ी में माैसम बिगड़ा रहेगा। मछुआरों को समुद्र की आेर न जाने की सलाह दी गर्इ है।

 

Posted By: Shweta Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.