अमेरिका H1B वीजा फ्रॉड मामले में भारतवंशी गिरफ्तार

2018-11-03T12:52:44Z

अमेरिका में H1B वीजा फ्रॉड मामले में एक भारतवंशी को गिरफ्तार किया गया है। उसपर H1B वीजा फ्रॉड के 10 मामले दर्ज हैं।

वाशिंगटन (पीटीआई)। अमेरिका के कलिफोर्निया में एच -1 बी वीजा फ्रॉड के आरोप में एक 46 वर्षीय भारतवंशी किशोर कुमार कावुरु को गिरफ्तार किया गया है। किशोर कुमार को शुक्रवार की सुबह गिरफ्तार कर अमेरिकी मजिस्ट्रेट न्यायाधीश सुसान वैन केलेन के सामने पेश किया गया। हालांकि बाद में उसे जज ने बॉन्ड पर रिहा कर दिया।किशोर पर वीजा फ्रॉड के 10 मामले और ग्राहकों को लुभाने वाली ऑफर्स से भरे कई फ्रॉड मेल के आरोप दर्ज किये गए हैं। आरोपी को 10 साल की जेल और वीजा धोखाधड़ी के प्रत्येक मामले के लिए 250,000 अमेरिकी डालर का अधिकतम जुर्माना और फ्रॉड मेल के हर एक मामले के लिए 20 साल की जेल हो सकती है।
किशोर के पास थे कई विदेशी मजदूर
2007 से, किशोर कुमार चार कंसल्टिंग कंपनियों का मालिक होने के साथ उनका मुख्य कार्यकारी अधिकारी है। उसपर श्रम विभाग और गृहभूमि सुरक्षा विभाग दोनों में फ्रॉड दस्तावेज जमा करने का आरोप है। इसमें गलत प्रोजेक्ट दिखाकर विदेशी मजदूरों को वीजा के लिए प्रतीक्षा कराने वाला मामला भी शामिल है। सरकारी वकील ने बताया कि चूंकि कई आवेदनों को अंत में मंजूरी दे दी जाती थी, इसलिए किशोर के पास एच -1 बी वीजा वाले कई बेरोजगार लोग मौजूद थे और उनका समय समय पर कई अन्य कार्यों में इस्तेमाल  किया जाता था। इन मजदूरों से कंपनियों को भी काफी फायदा होता था।

ट्रंप बोले, अमेरिका ईरान को दुनिया का सबसे घातक हथियार बनाने की अनुमति नहीं देगा

अमेरिकी यूनिवर्सिटी के कैंपस में गोलीबारी से एक छात्रा की मौत, संदिग्ध फरार

 

Posted By: Mukul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.