रेलवे ने इन तीन पोस्ट को एक में किया मर्ज मल्टी टैलेंटेड वालों को ही मिलेगी नौकरी

2019-06-18T10:35:15Z

टिकट चेक करने का हुनर मालूम हो तो वहीं कागजी कार्रवाई में भी तेज कंप्यूटर पर उंगली की जादूगरी दिखे तो इस पर स्पीड भी उसकी पहचान हो रेलवे में अब सिर्फ हाईस्कूल पास कर लेने भर से बात नहीं बनने वाली है

-रेलवे ने टिकट कलेक्टर, कॉमर्शियल क्लर्क और ईसीआरसी पोस्ट को किया मर्ज

-बोर्ड के निर्देश के बाद कॉमर्शियल में मर्जर की प्रॉसेस शुरू

-कुछ टेक्निकल पेंच की वजह से अटका था मर्जर

gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR: टिकट चेक करने का हुनर मालूम हो, तो वहीं कागजी कार्रवाई में भी तेज, कंप्यूटर पर उंगली की जादूगरी दिखे, तो इस पर स्पीड भी उसकी पहचान हो. रेलवे में अब सिर्फ हाईस्कूल पास कर लेने भर से बात नहीं बनने वाली है. रेलवे बोर्ड के निर्देश पर रेल एडमिनिस्ट्रेशन ने टिकट कलेक्टर, कॉमर्शियल क्लर्क और ईसीआरसी के पोस्ट को कॉमर्शियल में मर्ज कर दिया है. यानि अब इन तीनों पोस्ट के लिए महारत हासिल करने वाला ही रेलवे की नौकरी हासिल कर सकेगा. फिलहाल अभी पुराने स्टाफ को ही मर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी, जिसकी प्रॅसेस अब तक शुरू नहीं हाे सकी है.

अब तक थे अलग-अलग काम
रेलवे में इन तीनों पोस्ट की बात करें तो सभी के अलग-अलग काम बंटे थे. इसमें जहां जंक्शन पर आने वाले पैसेंजर्स प्रॉपर वे में टिकट लेकर पहुंच रहे हैं या नहीं?, वह जो सामान लाएं हैं, उसे बुक कराया है या नहीं? कही पैसेंजर्स रेलवे को चूना तो नहीं लगा रहे हैं. इन सब चीजों की जांच टीसी के जिम्मे थी, जबकि कॉमर्शियल क्लर्क कागजी जिम्मेदारियां निभाता था. इसके साथ ही रेलवे टिकट काउंटर पर रिज‌र्व्ड और अनरिज‌र्व्ड टिकट्स की बुकिंग के लिए ईसीआरसी की भर्ती की जाती है. मगर अब तीनों पोस्ट को कॉमर्शियल में मर्ज कर दिया गया है. अब रेलवे इनमें से जिन्हें चाहे, उनसे तीनों में से किसे के काम भी ले सकता है.

फंसे थे कुछ पेंच
इस मामले में रेलवे ने 2018 में ही सर्कुलर जारी कर दिया था, लेकिन कुछ प्रमोशन के पेंच के साथ ही कोर्ट केस होने की वजह से कुछ जगह मामला पेंडिंग पड़ा रहा. वहीं अलग-अलग रेलवे में इसको यूनिफॉर्मली अडॉप्ट नहीं किया गया, जिसकी वजह से इसमें मुश्किलें आने लगीं. रेलवे ने इन सब मैटर्स को सॉर्ट आउट कर एक बार फिर इसकी कार्रवाई शुरू कर दी है. गोरखपुर में कुछ एंप्लाइज को इधर-उधर ट्रांसफर भी किया गया है. अगर सबकुछ ठीक रहा, तो जल्द सभी पोस्ट पर जरूरी एंप्लाइज को ज्वाइन करा दिया जाएगा, इसके बाद जहां भी वैकेंसी होती है, उस हिसाब से इसे फिल ि1कया जाएगा.

दो फेज में किया जाएगा मर्जर
रेलवे बोर्ड के निर्देश पर दो फेज में इसका मर्जर किया जाना है. पहले फेज में टिकट चेकिंग स्टाफ को छोड़कर कॉमर्शियल क्लर्क और ईसीआरसी को मर्ज किया जाएगा. इसमें चार कैटेगरी की पोस्ट बनाई गई हैं. जिसमें कॉमर्शियल कम रिजर्वेशन क्लर्क, सीनियर कॉमर्शियल कम रिजर्वेशन क्लर्क, चीफ कॉमर्शियल कम रिजर्वेशन क्लर्क और कॉमर्शियल सुपरवाइजर की पोस्ट होगी. सुपरवाइजर लेवल सेवन में रखे जाएंगे, वहीं पोस्ट के अकॉर्डिंग बाकी लोगों के लेवल भी डिसाइड किए जाएंगे. इसकी प्रॉसेस जल्द शुरू हो जाएगी.

रेलवे बोर्ड के निर्देश प्राप्त हुए हैं. दो फेज में मर्जर किया जाना है. इसके पहले फेज में टिकट चेकिंग स्टाफ को छोड़कर सीसी और ईसीआरसी का मर्जर किया जाएगा. सेकेंड फेज में सभी को मर्ज कर दिया जाएगा.
- पंकज सिंह, सीपीआरओ, एनई रेलवे

Posted By: Syed Saim Rauf

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.