अपराध कबूलवाने के लिए कंधे पर रखा सांप इंडोनेशिया पुलिस का कारनामा

2019-02-11T13:10:47Z

इंडोनेशिया में एक पुलिस अधिकारी ने कस्टडी में पूछताछ के दौरान आरोपी के गर्दन पर जिंदा सांप रख दिया था। इस काम के लिए अब इंडोनेशियाई पुलिस ने मांफी मांगी है।

जकार्ता (रॉयटर्स)। पापुआ के पूर्वी इलाके में एक पूछताछ सत्र के दौरान कस्टडी में आरोपी से जुर्म कबूल कराने के लिए पुलिस अधिकारियों ने संदिग्ध व्यक्ति के गले में एक जिंदा सांप लपेट दिया था। इस काम के लिए अब इंडोनेशियाई पुलिस ने माफी मांगी है और अधिकारियों पर कार्रवाई करने का वादा किया है। ऑनलाइन वायरल हुए एक वीडियो में दिखाया गया है कि पुलिस कस्टडी में एक शख्स से चोरी हुए मोबाइल फोन के बारे में पूछताछ की जा रही थी, जब वह अपने जुर्म को नहीं कबूलता है तो अधिकारी उसके गले में सांप लपेट देते हैं।

Ternyata penggunaan ular untuk interogasi orang Papua yang ditangkap cukup marak. Terakhir yang diketahui adalah terhadap Sam Lokon anggota KNPB. Video ini kabarnya di Wamena.
Snakes are reported being used against West Papuans for interrogation. pic.twitter.com/Rf72r9oJMO

— Veronica Koman (@VeronicaKoman) February 8, 2019


चोरी हुए फोन को लेकर पूछताछ
वीडियो में आरोपी से एक अधिकारी द्वारा पूछा जाता है, 'कितने बार तुमने मोबाइल फोन चुराए होंगे?' इस पर संदिग्ध ने जवाब दिया, 'केवल दो बार।' वीडियो में एक आवाज सुनाई देती है, जिसमें एक अधिकारी आरोपी की आंखे खोलने का आदेश देता है और धमकी देता है कि अगर वह सच नहीं बताया तो सांप उसके मुंह और पैंट के अंदर भी डाल दिया जायेगा। जयविजय पुलिस प्रमुख टॉनी आनंद स्वदाया ने एक बयान में माफी मांगते हुए कहा, 'जांच करने वाले प्रोफेशनल नहीं थे, सांप को सामने रखकर जुर्म कबूल कराने का तरीका उनका अपना फैसला था। हमने उन अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है।' हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि अधिकारियों में से किसी ने आरोपी के साथ मारपीट नहीं की। पपुआ पुलिस के प्रवक्ता अहमद मुस्तफा कमल ने कहा कि इस मामले की इंटरनल जांच चल रही है, अगर कानून या आचार संहिता का उल्लंघन किया गया होगा तो उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

स्टडी का दावा, आस्था में विश्वास ना रखने वालों की तुलना में धार्मिक लोग ज्यादा रहते हैं खुश

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.