इंडोनेशिया में सुनामी से अब तक 281 लोगों की मौत और करीब 1000 घायल फिर से चेतावनी जारी

2018-12-24T12:41:55Z

इंडोनेशिया में ज्वालामुखी विस्फोट होने के कारण भारी सुनामी आ गई जिसमें अब तक 281 लोगों की मौत और करीब 1000 लोग घायल हो गए हैं। सरकार ने फिर से चेतावनी जारी कर दी है।

जकार्ता (आईएएनएस)। इंडोनेशिया के सुंडा स्ट्रेट में शनिवार की रात ज्वालामुखी फटने के भारी सुनामी आ गई। स्थानीय अधिकारियों ने अब तक इसमें 281 लोगों की मौत और 1016 लोगों के घायल होने की पुष्टि की है। सोमवार को आपातकालीन टीमों ने फिर से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिए हैं। नेशनल एजेंसी फॉर डिजास्टर मैनेजमेंट (बीएनपीबी) द्वारा जारी किए गए नए आंकड़ों के अनुसार, इस सुनामी के चलते 57 लोग लापता और 11,687 लोग विस्थापित हो गए हैं। इसके साथ उन्होंने यह भी बताया कि मलबे के नीचे अभी भी कुछ लोग दबे हैं। बता दें कि इंडोनेशिया के अनाक क्रैकाटोआ ज्वालामुखी के पास स्थानीय निवासियों को दिन के शुरुआत में ही चेतावनी दी गई थी कि वे समुद्र तटों से दूर रहें क्योंकि भारी सुनामी आ सकती है।
अभी भी आ सकती है सुनामी

बीएनपीबी के हेड सुतोपो पुरो नुग्रोहो ने चेतावनी जारी करते हुए कहा, 'मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकीय एजेंसी का कहना है कि लोग समुद्री तट से दूर रहें क्योंकि ज्वालामुखी विस्फोट जारी है और अभी भी भारी सुनामी आने की संभावना है।' बता दें कि शनिवार को आई सुनामी ने सुंडा स्ट्रेट में 611 घरों, 69 होटलों, 60 दुकानों और 420 नावों को बर्बाद कर दिया। बीएनपीबी ने कहा कि पांडेयलांग, सेरांग, दक्षिण लम्पुंग, तांगगाम, पेसारन, बानटेन और लैम्पुंग (सुमात्रा) प्रांतों में हताहत और भारी क्षति हुई है। इस आपदा में घायल हुए लोगों को स्थानीय अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया गया है।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.