EPF और Small Saving पर मिलेगा कम ब्‍याज

2013-03-26T10:21:28Z

The Finance Ministry has cut interest rate on small saving scheme and EPF by 0 1 per cent to 8 7 per cent

गवर्नमेंट ने स्मॉल सेविंग स्कीम्स और लोक भविष्य निधि खातों (EPF) पर ब्याज दर 0.10 परसेंट घटाई है. नई दरें पहली अप्रैल से लागू होंगी. इसके पहले इंपलॉईज के पेशंन कोष का मैनेजमेंट करने वाली संस्था ईपीएफओ ने अपने करीब पांच करोड़ अकाउंट होल्डर्स की भविष्य निधि पर 2012-13 के लिए 8.5 परसेंट की दर से ब्याज देने का डिसीजन लिया था.
इससे पिछले फाइनेंशियल ईयर में 8.25 परसेंट की दर से ब्याज दिया गया था. 2010-11 में ईपीएफ पर ब्याज 9.5 परसेंट था. सेविंग स्कीम्स और ईपीएफ में ब्याज दर में कमी करने से आम आदमी को महंगाई में मुश्िकलों का सामना करना पड़ सकता है.

ईपीएफओ पर ब्याज दर की अधिसूचना फाइनेंस मिनिस्ट्री की सहमति से जारी की जाती है. आमतौर पर ब्याज दर की घोषणा फाइनेंशिलय ईयार के शुरू में ही कर दी जाती है पर पिछले साल इसमें देरी हुई थी.



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.