Women's Day शाह हो या राजनाथ इन सफल राजनेताआें के पीछे है पत्नियों का हाथ

2019-03-08T07:30:01Z

अक्सर कहते हैं हर सफल आदमी के पीछे एक आैरत का हाथ होता है। एेसा सच भी है। यकीन न हो इन बड़े राजनेताआें को ही देख लीजिए जिनके सफल होने के पीछे उनकी पत्नियों की भी खास भूमिका है। आइए आज इंटरनेशल वूमेंस डे पर जानें इन राजनेताआें की पत्नियों के बारे में

कानपुर। अमित शाह हो या राजनाथ भारतीय राजनीति में एेसे तमाम राजनेता हैं जिनकी पत्नियों ने उन्हें सफल बनाने में काफी मेहनत की। निजी व राजनीतिक जीवन में आए उतार-चढ़ाव में हमेशा उनके साथ एक मजबूत पिलर की तरह खड़ी रहीं। मिड डे की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन राजनेताआें की पत्नियाें ने कभी एक पत्नी तो कभी दोस्त रूप में हमेशा इन्हें मोटिवेट किया है।
अमित शाह की पत्नी सोनल शाह
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के इस मुकाम तक पहुंचने में पत्नी सोनल शाह की बड़ी भूमिका है। वह हमेशा पति के साथ हर मोड़ पर खड़ी रहती हैं। अमित शाह ने 1987 में सोनल शाह के साथ विवाह रचाया था। इनका एक बेटा है जिसका नाम जय शाह है ।
वेंकैया नायडू की पत्नी उषा नायडू
वर्तमान में देश के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के जीवन में 1971 में उषा ने एक पत्नी के रूप में कदम रखा था। आज इन्हें एक बेटा आैर बेटी हैं। वेंकैया नायडू को राजनीति में शुरुआत से लेकर भारत के उपराष्ट्रपति बनने तक उषा नायडू का पूरा साथ मिला है।

राजनाथ सिंह की पत्नी सावित्री सिंह

भारतीय राजनीति में राजनाथ सिंह एक बड़ा नाम है आैर यह वर्तमान में केंद्रीय गृहमंत्री के पद पर आसीन हैं। राजनाथ ने 1971 में सावित्री सिंह से शादी रचार्इ थी। सावित्री राजनाथ के साथ एक मजबूत पिलर की तरह खड़ी रहती हैं। इन्हें 2 बेटे और एक बेटी है।
पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम
कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की सक्सेज के पीछे उनकी पत्नी नलिनी चिदंबरम का एक बड़ा रोल है। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस की बेटी नलिनी चिदंबरम हमेशा पति के साथ हर मोड़ पर साथ खड़ी रहती हैं। इनका एक बेटा कीर्ति चिदंबरम हैं।
उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की सफलता के पीछे उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे की विशेष भूमिका रही है। इन्होंने 1988 में शादी की थी। इनका एक बेटा आदित्य ठाकरे शिवसेना की युवा शाखा का नेतृत्व कर रहा है। वहीं दूसरा बेटा तेजस अभी पढ़ार्इ कर रहा है।

बीजेपी-शिवसेना में गठबंधन, भाजपा 25 सीटों पर और शिवसेना 23 पर लड़ेगी लोकसभा चुनाव


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.