कोहली नहीं रायडू ने लगाया IPL 11 में शतक, वनडे डेब्‍यू के लिए किया था 13 साल इंतजार

Updated Date: Mon, 14 May 2018 03:13 PM (IST)

आईपीएल 11 में चौथा शतक चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के खिलाड़ी अंबाती रायडू के बल्‍ले से निकला। रायडू इस सीजन में काफी धमाल मचा रहे हैं। अभी तक वह 500 से ज्‍यादा रन बना चुके हैं और कोहली से काफी आगे हैं।


रायडू ने जड़ा आईपीएल 11 का चौथा शतककानपुर। रविवार को आईपीएल 11 के 46वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हरा दिया। सीएसके की इस जीत के हीरो दाएं हाथ के स्टार बल्लेबाज अंबाती रायडू रहे। रायडू ने इस मैच में शानदार 62 गेंदों में 100 रन की पारी खेली। यह उनके आईपीएल करियर का पहला शतक है। यही नहीं मौजूदा आईपीएल सीजन में वह शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज बन गए हैं। आईपीएल 11 में अभी तक सिर्फ शेन वाटसन, क्रिस गेल, ऋषभ पंत और अंबाती रायडू ही शतक जड़ पाए हैं। इस साल अंबाती काफी जबरदस्त फॉर्म में हैं। अभी तक खेले गए 12 मैचों में उनके नाम 535 रन दर्ज हैं और वह रनों के मामले में विराट कोहली से काफी आगे हैं।
सिर्फ 2 करोड़ में खरीदे गए इस साल


पिछले सीजन मुंबई इंडियंस की ओर से खेलने वाले अंबाती रायडू को आईपीएल 11 में चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा है। हालांकि रायडू को बहुत बड़ी रकम तो नहीं मिली मगर 2.2 करोड़ में खरीदे गए इस बल्लेबाज ने मौजूदा आईपीएल सीजन में कहर बरपा दिया। जिस टूर्नामेंट में कोहली, गेल और डविलियर्स जैसे धुरंधर खिलाड़ी खेल रहे हों उनको पछाड़कर रायडू ने टॉप 5 में जगह हासिल की है। आईपीएल के 47 मुकाबलों के बाद रायडू के नाम 12 मैचों में 535 रन दर्ज हैं, वह इस साल सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में चौथे नंबर पर है। आईपीएल 11 में एक शतक के अलावा रायडू दो अर्धशतक भी जड़ चुके। 16 की उम्र में किया था फर्स्ट क्लॉस डेब्यूआंध्र प्रदेश के गुंटुर में जन्में 32 वर्षीय अंबाती रायडू को जितनी तवज्जो मिलनी चाहिए, उतनी उन्हें मिली नहीं। करियर के शुरुआती दिनों में रायडू की तुलना सचिन से होती थी। 16 साल की उम्र में अंबाती ने फर्स्ट क्लॉस क्रिकेट खेलना शुरु कर दिया था। उन्हें हैदराबाद की तरफ से खेलने का मौका मिला। दो साल तक घरेलू क्रिकेट खेलने के बाद रायडू को भारत की अंडर 19 क्रिकेट टीम का कप्तान बना दिया गया। 2004 में हुए अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की कमान रायडू के हाथों में थी, हालांकि टीम खिताब तो नहीं जीत पाई मगर रायडू को चुनौती का सामना करने का अनुभव हो गया। 13 साल बाद मिला टीम इंडिया में मौका

लिस्ट ए और प्रथम श्रेणी में लगातार रन बनाने के बावजूद रायडू को अपना पहला इंटरनेशनल मैच खेलने में 13 साल लग गए। जुलाई 2013 में भारतीय टीम जब जिंबाब्वे दौरे पर गई तब रायडू को भारत की 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया। 24 जुलाई को हरारे में रायडू ने अपना डेब्यू मैच खेला। पहले ही मैच में रायडू ने अर्धशतकीय पारी खेली, उस वक्त इस बल्लेबाज की उम्र 27 साल थी और वह भारत की तरफ से सबसे ज्यादा उम्र में डेब्यू मैच में हॉफसेंचुरी लगाने वाले बल्लेबाज भी बन गए थे।बहुत छोटा है अंतरराष्ट्रीय करियर इंटरनेशनल करियर की बात करें तो रायडू के नाम 34 वनडे मैचों में 50.23 की औसत से 1055 रन दर्ज हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और 6 अर्धशतक निकले हैं। वहीं टी-20 की बात करें तो इस बल्लेबाज ने सिर्फ 6 इंटरनेशनल मैच खेले जिसमें उन्होंने मात्र 42 रन बनाए, हालांकि उन्हें टेस्ट मैच में कभी खेलने का मौका नहीं मिला। फिलहाल 2 साल से वह टीम इंडिया से बाहर हैं।सोर्स : ईएसपीएन क्रिकइन्फो

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.