गेम ऑफ थ्रोन्‍स की सईदा बोराजी ने कहा Adult Actress हूं Prostitute नहीं मीडिया से नाराज

2016-06-14T11:48:08Z

हाल ही में एक अंग्रेजी समाचार पत्र के हवाले से आ रही खबर की मानें तो चर्चित अमेरिकी टीवी धारावाहिक गेम ऑफ थ्रोन्‍स में काम कर चुकी एक्‍ट्रेस सहारा नाइट ना सिर्फ एक पोर्न अभिनेत्री हैं बल्‍की अपनी वेबसाइट में दावा करती हैं कि वे स्‍वतंत्र एस्‍कॉर्ट और रेसलर भी हैं।

असली  नाम नहीं है सहारा

खबरों के मुताबिक 41 साल की सहारा नाइट का असली नाम सईदा बोराजी है। वे भारतीय मूल की पोर्न स्टार हैं। चर्चित सिटकॉम शो 'गेम ऑफ थ्रोंस' के दो सीजन में काम कर चुकी सहारा ने इसमें एक वेश्या की भूमिका निभाई और शो के एक कंट्रोवर्शियल लेस्बियन सेक्स सीन में भी वो शामिल थीं। अब खबर है कि वास्तिविक जीवन में भी वो हाई प्राइज्ड प्रास्टीट्यूट हैं। वैसे सहारा नाइट को कुछ पोर्न साइटों पर 'इंडियन पोर्न स्टार' तो कुछ पर 'ब्रिटिश इंडियन पोर्न स्टार' बताया जाता है।

नहीं हूं प्रास्टीट्यूट
हालाकि सहारा खुद को केंट और लंदन बेस्ड इंडियन इंडिपेंडेंट एस्कॉर्ट बताती हैं। वे खुद को प्रास्टीट्यूट मानने से इंकार करती हैं पर एक अंग्रेजी अखबार के इंवेस्टिगेशन में दावा किया गया है कि पैसे लेकर ओरल सेक्स, टो शकिंग, सेक्सी चैट, टॉपलैस और न्यूड सेवाएं देने के लिए उपलब्ध रहती हैं। वहीं सहारा का कहना है कि वे कुश्ती में 'ब्लूबेल्ट' हैं, इसलिए रेसलिंग भी करती हैं। खुद को प्रास्टीट्यूट बताने के लिए वो मीडिया से काफी नाराज हैं और ट्वीट कर इन खबरों को बकवास बताया है।

भारत से लंदन गया था सहारा का परिवार
इस अखबार में बताया गया है कि 1960 में सहारा का परिवार भारत से लंदन शिफ्ट हुआ था। उनका परिवार एक परंपरागत मुस्लिम परिवार था पर सहारा ने आर्थोडेक्स परंपराओं को मानने से इंकार कर दिया और उन्होंने घर छोड़ कर एडल्ट फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया।
पैसों के लिए वेश्यावृत्ति
अंग्रेजी अखबार ने दावा किया कि सहारा पैसों के बदले सेक्स के लिए होटलों और दूसरे बुलाये गए स्थानों पर जाती हैं। उनकी सबसे सस्ती सेक्स सर्विस की कीमत 40 पॉण्ड बताई गयी है। और सबसे महंगी 900 पॉण्ड की। उन्होंने अखबार के इन्वेस्टिगेटिव जनर्लिस्ट से भी सेक्स के लिए पैसों की मांग की।

गेम ऑफ थ्रोन्स से बढ़ी कीमत
रिर्पोटर का कहना है कि सहारा ने उनको अलग श्रेणियों में अपने रेट बताते हुए कहा कि यही काम दूसरी लउ़कियां कम दामों में भी कर देती हें पर गेम ऑफ थ्रोंस की वजह से मिली पहचान के चलते उनकी कीमत बढ़ गयी है। हालाकि सड़क चलते लोग उन्हें बिना मेकअप के नहीं पहचान पाते पर इससे क्लाइंट तय करने में मदद मिलती है।

Hollywood News inextlive from Hollywood News Desk

Posted By: Molly Seth

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.