Coronavirus फैलने के बावजूद नहीं रद होगा ओलंपिक, जापान ने दिया संकेत

Updated Date: Thu, 05 Mar 2020 12:27 PM (IST)

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को लेकर जहां कई बड़े-बड़े स्पोर्ट्स इवेंट रद किए जा चुके हैं। वहीं जापान अपने यहां होने वाले ओलंपिक 2020 के आयोजन को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्घ है।

टोक्यो (रायटर्स)। जापान के ओलंपिक मंत्री ने संकेत दिया कि ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों को जुलाई से योजनाबद्ध रूप से आगे बढ़ाया जाएगा, भले ही देश में नए हिस्सों में कोरोनवायरस का प्रकोप फैला हो। सेको हाशिमोटो ने गुरुवार को संसद में कहा, "इस तथ्य के आधार पर कि आईओसी ने कल की बैठक में टोक्यो खेलों को रद्द करने या स्थगित करने के बारे में कभी उल्लेख नहीं किया है, मुझे रद्द नोटिस या किसी भी तरह की उम्मीद नहीं है।" मंत्री ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि ओलंपिक गेम्स को इस बार शायद रद कर दिया जाए मगर आईओसी इस तरह के किसी फैसले पर विचार नहीं कर रही।

जापान में तेजी से फैल रहा वायरस

जापान के शिगा के पश्चिमी प्रान्त में कोरोना वायरस संक्रमण का सबसे पहला मामला सामने आया था। राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके ने क्योटो, सपोरो और निगाटा में नए कोरोनोवायरस संक्रमणों की भी सूचना दी। एनएचके के अनुसार, गुरुवार सुबह तक देशभर में कोरोना वायरस के कुल 1,036 मामले हो गए थे, जो पिछले दिन की तुलना में 36 अधिक है। यह एक दिन में आज तक की सबसे बड़ी वृद्धि थी। वायरस के तेजी से प्रसार ने इस बारे में सवाल उठाए हैं कि क्या टोक्यो 24 जुलाई से निर्धारित ओलंपिक खेलों की मेजबानी कर सकता है, जिसका प्रभाव अन्य खेल प्रतियोगिताओं द्वारा महसूस किया जा सकता है।

फिलहाल रद होने की स्थिति नहीं

बुधवार को, जापानी रग्बी फुटबॉल संघ ने घोषणा की कि अगले महीने एशिया ओलंपिक आमंत्रण को कोरोनोवायरस प्रकोप पर चिंताओं के कारण रद्द कर दिया गया है।स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, जापान में बीमारी से अब तक 12 लोगों की मौत हो गई है। हाशिमोतो ने गुरुवार को ऊपरी सदन को बताया कि आयोजक और आईओसी मिलकर काम करना जारी रखेंगे और आईओसी के साथ योजनाबद्ध तरीके से खेलों को आयोजित करेंगे। हाशिमोतो ने कहा, "खेलों का रद्द होना या देरी होना एथलीटों के लिए अस्वीकार्य होगा।" हालांकि ओलंपिक संघ टोक्यो में आने वाले एथलीटों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराने की गारंटी देता है।

लोगों को एथलीटों की हो रही चिंता

आईओसी के प्रमुख थॉमस बाख ने बुधवार को विश्वास जताया था, ओलंपिक का आयोजन होना तय है। यह कहते हुए कि आयोजक विश्व स्वास्थ्य संगठन और अन्य से विशेषज्ञ जानकारी प्राप्त कर रहे थे और आईओसी की कार्यकारी बोर्ड की बैठक में "स्थगन" और "रद्द" शब्द का उल्लेख नहीं किया गया था। हालाँकि, कुछ टोक्यो निवासियों ने इस पर चिंता व्यक्त की है। 77 वर्षीय युफुमी तमाकी ने गुरुवार को रायटर को बताया, कि ओलंपिक को इस मामले में रद्द कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यह एक खतरनाक स्थिति है, मुझे एथलीटों और खेलों के लिए तैयार लोगों के लिए खेद है।' वैसे आपको बता दें जापान के अखबरों में भी ओलंपिक के आयोजन होने या न होने को लेकर काफी खबरें छप रही हैं। जापान के मेनिची अखबार ने बताया कि बड़े पैमाने पर भूकंप या अन्य प्राकृतिक आपदा की स्थिति में टोक्यो 2020 को रद्द करने के लिए आयोजकों ने प्रावधान बनाए हैं।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.