हर्बल खेती से महकेंगे झारखंड के 500 गांव

2018-10-25T06:00:02Z

RANCHI _: राज्य सरकार आयुर्वेद, होम्योपैथ एवं यूनानी पद्धति को बढ़ावा दे रही है। आयुर्वेद चिकित्सा के क्षेत्र में रोजगार की भी असीम संभावनाएं है। ऐसे में सरकार मेडिसिनल प्लांट बोर्ड को क्त्रियाशील करेगी। इस बोर्ड के माध्यम से आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने का काम किया जाएगा। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को आरोग्य भारती द्वारा आयोजित स्वास्थ्य और संस्कृति के वाहक औषधीय पौधे विषय पर आयोजित सेमिनार में ये बातें कही। उन्होंने कहा कि राज्यवासियों को बेहतर चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है।

सरकार देगी सहायता

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में आयुर्वेद प्लांट लगाने पर सरकार ऑर्गेनाइजर संस्थान को हर संभव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि औषधीय पदाथरें का अधिक से अधिक मात्रा में उत्पादन करें। हम सबों को नए अवसरों का लाभ उठाने के लिए हर संभव प्रयास करने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सेमिनार के माध्यम से जो भी सुझाव आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति को विकसित करने हेतु राज्य सरकार को मिलेंगे उस पर सरकार अमल करेगी। मुख्यमंत्री ने संगोष्ठी में यह सुझाव दिया कि ऐसे कार्यक्त्रमों का आयोजन सभी जिलों में करें।

पुस्तिका का विमोचन, कई सम्मानित

इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में उत्कृष्ट कार्य करने वाले वैद्य श्री तोरान बानरा, श्री बंधन सिंह खेरवार, श्री मोहन हांसदा, श्री भूषण चंद पांडेय सहित अन्य को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। मौके पर आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति से संबंधित एक पुस्तिका का भी विमोचन मुख्यमंत्री ने किया।

आयुष के लिए 28 करोड़ का बजट

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य मिल सके इस हेतु सरकार, समाज और संगठन आपसी समन्वय बनाकर कार्य करें। एनएचएम कैंपस में हर्बल गार्डन को विकसित करने का कार्य प्रगति पर है। आयुष के क्षेत्र को विकसित करना सरकार की प्राथमिकता है। नेशनल आयुष मिशन का अनुमानित बजट 28 करोड़ रुपये सरकार द्वारा रखा गया है।

खोले जा रहे हैं कई संस्थान

- गोड्डा होम्योपैथी कॉलेज का जल्द होगा शुभारंभ

चाईबासा में आयुर्वेदिक कॉलेज का हो रहा निर्माण

-गिरिडीह में यूनानी कॉलेज का भवन बनकर तैयार

-आयुष अस्पताल के लिए इटकी मे जमीन चिन्हित

-सेंट्रल काउंसिल ऑफ योग एंड नेचुरोपैथी को योग संचालन हेतु रांची में जगह दी गई है

-देवघर में खुलेगा जमीन सेंट्रल काउंसिल ऑफ योग एंड नेचुरोपैथी को योग एवं नेचुरोपैथी अस्पताल

-श्री अरविंदो के सहयोग से रांची में योग केंद्र का हो रहा संचालन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.