632 किग्रा डोडा के साथ दो गिरफ्तार

Updated Date: Wed, 23 Sep 2020 02:48 PM (IST)

स्न्क्त्रन्ढ्ढयश्वरुन्: एसपी अर्शी को मिली गुप्त सूचना के आधार पर कुचाई पुलिस ने अफीम बनाने के डोडा तस्करों के खिलाफ भारी सफलता हासिल की है। कुचाई पुलिस ने प्लास्टिक के 70 बोरों में 632 किग्रा डोडा के साथ दो को गिरफ्तार किया है। एसपी ने सरायकेला अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राकेश रंजन और चांडिल अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी धीरेंद्र नारायण बांका की उपस्थिति में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए जानकारी दी है। बताया गया कि गुप्त सूचना मिली थी कि सोमवार की रात्रि कुचाई थाना अंतर्गत गोपीडीह चौक से कुचाई की ओर होते हुए एक पिकअप वैन में कुछ लोग अवैध डोडा लेकर बाहर बेचने जाने वाले है।

बनाई गई टीम

सहायक पुलिस अधीक्षक सह अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सरायकेला राकेश रंजन के नेतृत्व में एक छापामारी टीम गठित की गई। जिसमें कुचाई थाना प्रभारी पुलिस अवर निरीक्षक उदय कुमार गुप्ता, परि पुलिस अवर निरीक्षक अरुण कुमार, सैट टू के हवलदार सनातन मांडी, आरक्षी विजय हेंब्रम, आरक्षी चंद्र मोहन मांडी एवं कुचाई थाना सैट टू के सशस्त्र बल के साथ प्रखंड विकास पदाधिकारी कुचाई की उपस्थिति में गोपीडीह चौक की ओर से आ रहे पिकअप वैन (जेएच 05 एक्यू-7138 ) को जोवाजंजीर के पास रुकने का इशारा किया गया। पिकअप गाड़ी भागने लगी। इसके बाद गाड़ी के चालक सह मालिक अमर मंडल और मुकेश केसरी को खदेड़ कर पकड़ा गया। जबकि खरसावां के पदमपुर गांव निवासी दो व्यक्ति रात्रि और झाड़ी का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। धराए मुकेश और अमर द्वारा बताया गया कि दोनों मिलकर टोकलो और दरभंगा कुचाई के सुदूरवर्ती गांव से डोडा खरीद कर बाहर के लोगों को अधिक मुनाफे में बेचा जाता है। इस मामले में गिरफ्तार मुकेश केसरी का भाई लोकेश केसरी 3 माह पूर्व खरसावां थाना क्षेत्र से डोडा की तस्करी करते गिरफ्तार होकर जेल जा चुका है।

नक्सली देते हैं संरक्षण

दरअसल जिले के खरसावां और कुचाई थाना इलाकों में नक्सलियों के संरक्षण में बड़े पैमाने पर अफीम की खेती होती है। तैयार अफीम या फिर डोडे को चोरी-छिपे शहरों तक पहुंचाया जाता है। कई मौकों पर पुलिस छापेमारी कर अफीम की फसल को नष्ट भी करती है। बावजूद इसके अफीम की खेती व तस्करी जारी है। यह खेती पहाडि़यों की तलहटियों तथा सुदूरवर्ती क्षेत्र में होती है, जहां पुलिस की पहुंच कम होती है। नक्सली हमले के खतरे के कारण पुलिस ऐसे इलाकों में कभी-कभार ही छापेमारी करती है।

बरामद सामान

1. घटना में प्रयुक्त हुई उक्त पिकअप गाड़ी।

2. गाड़ी के डाला में लोड प्लास्टिक के 70 बोरियों में कुल 432 किग्रा डोडा।

3. 50 हजार नगद।

4. विभिन्न कंपनी के तीन मोबाइल और सिम।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.