कल बंद रहेंगे बैंक और इंश्योरेंस ऑफिस

Updated Date: Wed, 25 Nov 2020 12:02 PM (IST)

JAMSHEDPUR: केंद्र सरकार की श्रम व कृषि नीति के विरोध में 26 नवंबर को राष्ट्रव्यापी हड़ताल बुलाई गई है, जिसमें बैंक व बीमा प्रतिष्ठान भी बंद रहेंगे।

झारखंड प्रदेश बैंक इम्प्लाइज एसोसिएशन ने मंगलवार को बिष्टुपुर में संवाददाता सम्मेलन किया। इस हड़ताल में बुधवार को दोपहर दो बजे बिष्टुपुर स्थित जीवन प्रकाश भवन और शाम 5.30 बजे बिष्टुपुर स्थित सेंट्रल बैंक के सामने बैंक व बीमा कर्मचारी प्रदर्शन करेंगे। 26 नवंबर को सुबह नौ बजे से बैंक व एलआइसी की शाखाओं और प्रशासनिक कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन और गेट जाम किया जाएगा।

सरकार की नीतियों का विरोध

इस मौके पर बैंक यूनियन के नेताओं ने कहा कि देश की आर्थिक रीढ़ सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, बीमा क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई के माध्यम से निजीकरण और नीलामी का खेल खेला जा रहा है। सरकारी बैंकों में आम जनता और वरिष्ठ नागरिक अपने भविष्य की सुरक्षा एवं जरूरत के लिए बचत की गई रकम जमा करते हैं। इन्हीं जमा पूंजी से बड़े बड़े औद्योगिक घराने कर्ज लेते हैं, बड़े-बड़े कल-कारखाने और व्यवसाय स्थापित करते हैं। इन्हीं में से कुछ बैंक के कर्ज नहीं चुकाते, लोन एनपीए कर बैठ जाते हैं और कुछ तो विदेशों में फरार हो गए हैं। इन बड़े कर्जदारों से वसूली कर बैंकों की स्थिति सु²ढ़ करना छोड़ सरकार बैंकों के विलय कर रही है और निजी हाथों में सौंपने की तैयारी भी है। आज जरूरत है बैंकों की संख्या बढ़ाने, निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण करने, बैंकों में खाली पदों को भरकर बेरोजगारों को रोजगार देने की, सरकार ठीक इसके उलट कर रही है।

इन्होंने किया संबोधित

संवाददाता सम्मेलन को झारखंड प्रदेश बैंक इम्प्लाइज एसोसियेशन के महासचिव आरबी सहाय, उप महासचिव हीरा अरकने, सपन अदक, वाइस चेयरमैन आरए सिंह, जिला महासचिव सुजीत घोष और ऑल इंडिया एलआईसी फ़ेडरेशन के महासचिव राजेश कुमार, जमशेदपुर डिवीजन इंश्योरेंस इम्प्लाइज एसोसिएशन के महासचिव गिरीश ओझा ने संबोधित किया।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.