जमशेदपुर एफसी और चेन्नइयन एफसी के बीच भिड़ंत आज

Updated Date: Tue, 24 Nov 2020 12:02 PM (IST)

JAMSHEDPUR: इंडियन सुपर लीग (आइएसएल) के सातवें सीजन में मंगलवार को वास्को डि गामा के तिलक मैदान स्टेडियम में दो बार की पूर्व चैम्पियन चेन्नइयन एफसी का सामना जमशेदपुर एफसी से होगा। इस सीजन में कोच के रूप में जमशेदपुर एफसी से जुड़ने वाले ओवेन कॉयल पिछले सीजन में चेन्नईयन एफसी टीम के कोच थे। उनके मार्गदर्शन में चेन्नईयन की टीम ने अंकतालिका में नीचे से ऊपर उठते हुए फाइनल तक का सफर तय किया था, जहां खिताबी मुकाबले में उसे एटीके से हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन कॉयल इस बार जमशेदपुर एफसी के कोच हैं। कॉयल ना केवल खुद जमशेदपुर की टीम से जुड़े हैं बल्कि उन्होंने पिछले सीजन के संयुक्त रूप से टॉप स्कोरर और गोल्डन बूट विजेता नेरीजुस वाल्सकिस को भी अपने साथ जमशेदपुर एफसी में लेकर आए हैं।

किया है बेहतरीन प्रदर्शन

कॉयल ने इसके अलावा मिजोरम के डिफेंडर लालदिनलियाना रेंथलेई को भी जमशेदपुर एफसी का हिस्सा बनाया है, जोकि पिछले कई सीजन से चेन्नईयन का हिस्सा थे। कॉयल जानते हैं कि इन खिलाडि़यों ने पहले बेहतरीन प्रदर्शन किया है और वे उनकी ताकतों को जानते हैं। मैच के पूर्व ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में ओवेन कॉयल ने कहा, 'मेरा हमेशा से मानना है कि जब आप पुरानी टीम के खिलाफ होते हैं और उन खिलाडि़यों के साथ होते हैं, जो आपके सामने खेल चुके हैं तो वे ये दिखाना चाहते हैं कि वे अभी भी टॉप पर हैं। इसलिए मुझे उनका सम्मान करना होगा.'

आक्रमण होगा मजबूत

वाल्सकिस के जुड़ने से जमशेदपुर के आक्रमण को मजबूती मिलेगी। लेकिन टीम ने पिछले सीजन में 35 गोल खाए थे और कॉयल को यह ¨चता जरूर सता रही होगी। चेन्नईयन की टीम इस बार अपने नए कोच क्साबा लाजलो के मार्गदर्शन में सीजन की शुरुआत करने उतरेगी। टीम के लिए उन खिलाडि़यों की जगह भरना मुश्किल होगा, जो क्लब का साथ छोड़ चुके हैं। पिछले सीजन में जो विदेशी खिलाड़ी टीम में थे उनमें से अब केवल नए कप्तान राफेल क्रिवेल्लारो और डिफेंडर अली सेबिया ही बचे हुए हैं। कोच लाजलो को उम्मीद है कि जैकब सिल्वेस्टर और डिफेंडर एनीस सिपोविच के आने से वो पिछले खिलाडि़यों की भरपाई कर सकते हैं। क्रिवेल्लारो ने चेन्नईयन का कप्तान बनाए जाने पर कहा, 'कप्तान बनने से मैं खुश हूं और यह मेरे लिए सम्मान की बात है। लेकिन मेरे लिए कुछ नहीं बदला है। मेरी फुटबाल खेलनी की शैली वही है। अपने स्ट्राइकरों की मदद करना सबसे महत्वपूर्ण बात है.'

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.