यूपीएससी के बाद अब जेपीएससी में चाी अटेंचट्स बढ़ेंगे !

Updated Date: Wed, 12 Feb 2014 07:00 AM (IST)

CSE में केंडीडेट्स के लिए 2 attempts बढ़ाए जाने के डिसीजन के बाद JPSC चाी कर सकता है ऐसा

Civil Services Exam pattern के मामले में UPSC को follow करता है JPSC

-Students ने UPSC में attempts बढ़ाए जाने का किया वेलकम

--JPSC अटेंचट्स बढ़ा सकता है पर अपर एज लिमिट को बढ़ाए जाने की कम संचावना

JAMSHEDPUR : यूनियन पचिलक सर्विस कमीशन (यूपीएससी) द्वारा कंडचट किए जाने वाले सिविल सर्विसेज एचजाम में सचाी केटेगरीज के केंडीडेट्स के लिए दो अटेंचट्स बढ़ाए जाने और अपर एज लिमिटेशन में चाी रिलैचसेशन का सिटी में सिविल सर्विसेज का प्रिपेरेशन करने वालेस्टूडेंट्स ने वेलकम किया है। स्टूडेंट्स इसलिए चाी चाुश हैं चयोंकि यूपीएससी में अटेंचट्स बढ़ने के बाद स्टेट सिविल सर्विसेज एचजाम में चाी अटेंचट्स की संचया बढ़ सकती है। जेपीएससी ने इसके लिए गवर्नमेंट को लिचाने की बात कही है।

कैसे मिलेगा फायदा

यूपीएससी को फॉलो करते हुए जेपीएससी में चाी अगर सचाी केटेगरीज के लिए दो अटेंचट्स और बढ़ा दिए जाएंगे तो जेपीएससी के सचाी 5 सिविल सर्विसेज एचजाम में शामिल होने वाले जेनरल केटेगरी के केंडीडेट्स को 3 अटेंचट्स और मिल जाएंगे। जेपीएससी ने पहले ही फ‌र्स्ट और सेकेंड कंबाइंड सिविल सर्विसेज एचजाम को काउंट नहीं करने का डिसीजन लिया है। इस तरह से जेपीएससी के एकॉर्डिग तीन ही कंबाइंड सिविल सर्विसेज एचजाम कंडचट किया गया है। ऐसे में जेनरल केटेगरी के स्टूडेंट्स को पहले से डिसाइड किए हुए चार अटेचपट्स में से एक और नए दो अटेंचट्स मिलेंगे। ओबीसी केटेगरी के मेल केंडीडेट्स के लिए टोटल पांच अटेंचट्स चो और ओबीसी केटेगरी की फीमेल केंडीडेट्स के लिए मैचिसमम अटेंचट्स छह चो। एससी, एसटी केटेगरी के केंडीडेट्स के लिए अटेंचट्स का लिमिटेशन नहीं है।

अपर एज लिमिटेशन में रिलैचसेशन के मूड में नहीं JPSC

यूपीएससी को फॉलो करते हुए जेपीएससी अटेंचट्स की संचया तो बढ़ाने पर विचार कर सकता है, पर यूपीएससी की तरह यहां अपर एज लिमिटेशन में रिलैचसेशन देने के मूड में जेपीएससी नहीं है। जेपीएससी के एचजामिनेशन कंट्रोलर सुमंत सिचहा ने कहा कि यहां पहले से ही सचाी केटेगरीज में मैचिसमम एज लिमिटेशन चयादा है, ऐसे में एज रिलैचसेशन पर चर्चा नहीं होने की उचमीद है।

JPSC में attempts और एज लिमिट

केटेगरी अटेंचट्स अपर एज लिमिटेशन

जेनरल ब् फ्भ् साल

ओबीसी(मेल) भ् फ्7 साल

फिमेल(जेनरल, ओबीसी) म् फ्8 साल

एससी, एसटी नो लिमिटेशन ब्0 साल

कटऑफ डेट क् अगस्त ख्009

जेपीएससी द्वारा एज काउंट करने के लिए कटऑफ डेट क् अगस्त ख्009 तय किया गया है। यानी केंडीडेट्स अपना अपर एज उसी डेट से काउंट कर सकते हैं। जेपीएससी द्वारा भ्वीं कंबाइंड सिविल सर्विसेज पीटी एचजाम कंडचट किया जा चुका है, पर आयोग ने पहले और दूसरे कंबाइंड सिविल सर्विसेज एचजाम को काउंट नहीं करने का डिसीजन लिया है। इस तरह अचाी तक सिर्फ फ् एचजाम ही काउंट किए जाएंगे।

यूपीएससी सिविल सर्विसेज एचजाम में अटेंचट्स की संचया बढ़ाना और अपर एज लिमिटेशन में रिलैचसेशन देना बहुत अचछा स्टेप कहा जाएगा। मेरा चाी इस बार लास्ट चांस चा पर अब दो चांस और मिल जाएंगे।

- संदीप कुमार, सिविल सर्विसेज एस्पाईरेंट

यूपीएससी को फॉलो करते हुए जेपीएससी चाी अटेंचट्स की संचया बढ़ाने के बारे में विचार करेगा यह तो बहुत चाुशी की बात है। अगर ऑल इंडिया लेवल पर अटेंचट्स बढ़ा जा रहे तो स्टेट सर्विस में तो बढ़ना ही चाहिए।

- कुचाल, सिविल सर्विसेज एस्पाईरेंट

यूपीएससी सिविल सर्विसेज में अटेंचट्स की संचया बढ़ाना कई सीरियस केंडीडेट्स के लिए फायदेमंद होगा। कई केंडीडेंट्स ऐसे हैं जिनका कुछ माचर्स से फाइनल सेलेचशन छूटा है। जेपीएससी चया स्टेप लेगा यह देचाना होगा।

- अमर कुमार सिंह, चाचाचय कॅरियर एकेडमी

यूपीएससी सिविल सर्विसेज एचजाम में सचाी केटेगरीज के केंडीडेट्स के लिए दो अटेंचट्स बढ़ाए जाने के गर्वनमेंट के डिसीजन के बाद हम चाी गवर्नमेंट को स्टेट सिविल सर्विसेज में अटेंचट्स बढ़ाने पर विचार करने को लिचोंगे।

- सुमंत सिचहा, एचजामिनेशन कंट्रोलर, जेपीएससी

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.