आदित्यपुर की लापता किशोरी का शव नदी से बरामद, काटा बवाल

Updated Date: Sun, 21 Jun 2020 12:36 PM (IST)

--आक्रोशित बस्तीवासियों ने किया आदित्यपुर कांड्रा सड़क को जाम,

--टायर जला किया प्रदर्शन, कई वाहन के शीशे तोड़े, पुलिस का लाठी चार्ज

--बस्तीवासियों ने 17 जून से लापता किशोरी के साथ दुष्कर्म और हत्या होने की जताई संभावना

आदित्यपुर : सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर के एक बस्ती से 17 जून से लापता 16 वर्षीय किशोरी का शव शनिवार दोपहर दो बजे उत्तमडीह के पास खरकई नदी से बरामदगी के बाद उसके परिजनों को बगैर जानकारी दिये पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सरायकेला भिजवा दिया तो लोगों ने जमकर बवाल किया। आक्रोशित भीड़ सड़क पर उतर आई। आदित्यपुर-कांड्रा मुख्य मार्ग आशियाना मोड़ के पास जाम लगा दिया। जगह-जगह टायर जलाकर प्रदर्शन किया और कई वाहनों के शीशे चटका दिये। बांस और डंडे मार्ग के दोनों क्षोर को अवरुद्ध कर दिया जिससे यातायात बाधित होने लगी.बस्तीवासियों द्वारा सड़क जाम करने के दौरान एक नैनो कार में तोड़फोड़ और सड़क किनारे दुकानों में पथराव भी किया गया।

पहुंची पुलिस टीम

सूचना मिलने पर आरआईटी, आदित्यपुर व गम्हरिया थाना के पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंचकर मामले को शांत कराने का प्रयास किया। परिजन और बस्ती के लोगों ने किशोरी के साथ दुष्कर्म होने और हत्या के बाद साक्ष्य छुपाने को शव को नदी में फेंक देने की संभावना व्यक्त की। इसके दोषियों को तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। मौजूद पुलिस अधिकारी यह भरोसा देते रहे पोस्टमार्टम होने दे। रिपोर्ट के बाद अवश्य कार्रवाई होगी, लेकिन लोग हटने को तैयार नही हुए। पुलिस ने लोगों को बताया कि मामले में पांच युवकों को हिरासत में लिया गया है। भीड़ नहीं हटने पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। भगदड़ मच गई। सड़क खाली हो गया। गौरतलब हैं कि किशोरी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं था। वह 17 जून को नदी में नहाने गई थी। फिर वापस नहीं लौटी। संभावना व्यक्त की जा रही कि नशेडि़यों ने घटना को अंजाम दिया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

आदित्यपुर थाना प्रभारी सुषमा कुमारी के अनुसार सुनी-सुनाई बात पर पुलिस विश्वास नहीं करती। पोस्टमार्टम रिपोर्ट जो ¨बदु सामने आएंगे। उस अनुसार कार्रवाई होगी। दुष्कर्म के बाद हत्या हुई या क्या हुआ इस पर कुछ बता नहीं सकते। मेडिकल बोर्ड की टीम ने पोस्टमार्टम किया है। किशोरी मामले में पांच युवकों को हिरासत में लिया गया है।

----

अगर पुलिस सक्रिय रहती तो ¨जदा होती

परिजनों और बस्ती के लोगों का कहना हैं कि अगर पुलिस किशोरी के लापता होने के दिन से ही सक्रिय होती तो शायद वह ¨जदा होती। पुलिस ने गंभीरता से मामले पर ध्यान नहीं दिया।

18 जून को थाना में मां ने दी शिकायत : 17 जून को 12 बजे किशोरी नदी में नहाने गई थी उसके बाद वह वापस नही लौटी । उसकी मां ने 18 जून को थाना में शिकायत दिया था जिसके बाद पुलिस ने उसी दिन रोहित नामक एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी।

स्कूल के पास मिले थे कपड़े

खोजबीन में पुलिस ने किशोरी के वस्त्र और चप्पल 18 जून को सालडीह बस्ती स्थित स्कूल के पास से बरामद किया था उसके पिता निधन हो चुका है। मॉ बस्ती में ही एक दुकान खोलकर अपने परिवार का गुजर-बसर कर रही थी। उक्त कार्य में मां का सहयोग किशोरी करती थी। उसने पढ़ाई छोड़ दी थी। उसका एक छोटा भाई भी है।

नशाखुरानी गिरोह

सालडीह बस्ती स्थित खरकई नदी तट जहां से किशोरी गायब हुई थी। वहां पर अक्सर ब्राउन शुगर का नशा करने वाले युवकों का जमावड़ा लगा रहता हे। बीते वर्ष पुलिस ने छापामारी कर एक अस्थायी ब्राउन शुगर बार का उदभेदन किया गया था। उसके बाद से इस कार्य पर थोड़ा नियंत्रण लगा। लेकिन हाल के दिनों में फिर से ब्राउन शुगर , गांजा, शराब पीने वालों का जमावड़ा लगा रहता है।

--

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.