कोरोना के करीब हैं स्वाद के ये शौकीन

Updated Date: Tue, 07 Jul 2020 11:36 AM (IST)

pratik .piyush@inext.co.in

JAMSHEDPUR: एक और जहां सिटी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ती जा रही है, वहीं दूसरी ओर कोविड-19 के खौफ पर स्वाद भारी पड़ता नजर आ रहा है। आलम यह है कि ज्यादातर स्ट्रीट वेंडर्स पास स्वाद के शौकीनों की महफिल सज रही है। लोगों की भीड़ दोसा, इटली से लेकर गोलगप्पा और समोसा और चाय जमकर उड़ा रहे हैं। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही है। लोगों की यह लापरवाही जानलेवा हो सकती है। इसका अंदाजा शायद ही उन्हें है। हालांकि कई स्ट्रीट वेंडर्स ऐसे भी हैं जो नियम का अक्षरश पालन भी कर रहे हैं। सोमवार को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट रिपोर्टर ने शहर का रियलिटी चेक किया। इस दौरान चौंकाने वाले तथ्य सामने आए।

जुबिली पार्क के पास

जुबिली पार्क के पास स्ट्रीट वेंडर्स की दुकानें खुल गई हैं। सोमवार को यहां दोसा इटली से लेकर चाय के शौकीन जमकर तुल्फ उठा रहे थे। ज्यादातर ठेले वालों ने न तो मास्क पहना था और न ही खानेवाले सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे थे। यहां से करीब चार सौ मीटर की दूरी पर डीसी व एसएसपी ऑफिस है, जहां रोज शहर के ज्यादातर प्रशासनिक अधिकारियों का आना-जाना लगा रहता है।

बिष्टुपुर खाओ गली

बिष्टुपुर खाओ गली अपने स्ट्रीट फूड के ठेलों के लिए शहर में फेमस है। पर जब हमारी टीम यहां भी पहुंची तो ज्यादातर ठेले वाले नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे थे। ना तो किसी ने मास्क पहना जरूरी समझा था ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना।

साकची बजार स्थित तिनकोनिया लाइन

सकची बाजार स्थित तीनकोनिया लाइन में भी ठेलेवालों ने मास्क नहीं पहना था। ठेलों में लोग की भीड़ थी और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा था।

आरडी टाटा चौक

आरडी टाटा के पास से स्ट्रीट वेंडर्स सुरक्षा की अनदेखी कर रहे थे। उन्होंने न तो मास्क पहना था और न ही ग्लव्स। गोलगप्पे की दुकानों पर लोगों की भीड़ थी। यहां कोविड-19 से बचने वाली गाइडलाइन्स की धज्जियां उड़ाई जा रही थी।

एमजीएम हॉस्पिटल के पास

महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल में जहां लोग कोरोना की जांच करवाने आ रहे हैं। हॉस्पिटल के बाहर बाहर लगनेवाले ठेलों में भी नियमों की धज्जियां उड़ती दिखी। न तो स्ट्रीट वेंडर्स मास्क और ग्लव्स पहनना जरूरी समझ रहे हैं और न ही इन ठेलों में खाना खा रहे लोग कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो कर रहे हैं।

बेच सकते हैं, खिला नहीं सकते

जिला प्रशासन की ओर से जारी गाइडलाइंस में साफ कहा गया है कि स्ट्रीट वेंडर्स, होटल-रेस्टोरेंट वाले सिर्फ पैक्ड फूड्स की ही बिक्री कर सकते हैं। किसी भी रूप में बिठाकर खाद्य सामग्री नहीं परोस सकते हैं, लेकिन हकीकत यह है कि ज्यादातर स्ट्रीट वेंडर्स इस नियम को फॉलो नहीं कर रहे हैं।

कार्रवाई का है प्रावधान

जिला प्रशासन ने स्पष्ट कहा है कि अगर कोई स्ट्रीट वेंडर या रेस्टोरेंट वाला नियम तोड़ता है तो उस पर डिजास्टर मैनेंजमेंट का उल्लंघन के तहत कार्रवाई की जाएगी।

अगर सिटी के स्ट्रीट वेंडर्स नियम नहीं मान रहे हैं तो नगर निकाय के अधिकारियों से बात करके कार्रवाई की जाएगी।

चंदन कुमार, एसडीओ, धालभूम

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.