अब जरा भी लापरवाही पड़ जाएगी भारी

Updated Date: Mon, 13 Jul 2020 11:36 AM (IST)

- 12 घंटे में ही चली गई 7 की जान

- अकेले रिम्स में तीन ने तोड़ा दम

- लगातार पांच दिनों तक कोरोना की सेंचुरी

- मंत्री रामेश्वर उरांव ने दिए फिर से लॉकडाउन के संकेत

रांची: राज्य भर में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। एक के बाद एक सभी जिले संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। राजधानी रांची भी इससे अछूती नहीं है। आलम यह है कि जरा भी लापरवाही अब बहुत भारी पड़ सकती है। रविवार को 12 घंटे के भीतर राज्य के अलग-अलग हिस्सों से सात लोगों की मौत हो गई। अकेले रिम्स में ही तीन कोरोना संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। कोविड केसेज के प्रसार का आलम यह है कि लगातार पांच दिनों तक 100 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। चार दिन तो 150 से भी ज्यादा मामले सामने आए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन लगातार लोगों से अपील कर रहा है कि कोविड-19 को लेकर दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करें, अन्यथा इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। बात यहां तक पहुंच गई है कि बढ़ते संक्रमण के बीच राज्य सरकार के मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा है कि अगर जरूरी हुआ तो कुछ जिलों के लिए फिर से पूरी तरह लॉकडाउन किया जाएगा।

अब राज्य में 1421 एक्टिव केस

रविवार को राज्य भर में 80 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। रांची में 15 इन्फेक्टेड केस मिले। रांची में संक्रमित पाए गए लोगों में कडरू, अरगोड़ा, चुटिया, हेहल, डोरंडा, सैमफोर्ड हॉस्पिटल, सिरका टोली से एक-एक और मोरहाबादी व बरियातू से मिले 4-4 शामिल हैं। इसके अलावा चतरा में 18 और कोडरमा में 14 नए मरीज मिले। इस प्रकार अब संक्रमितों की कुल संख्या 3760 हो गई है। हालांकि, रविवार को भी 45 लोगों ने कोरोना को मात दी, जिसके बाद एक्टिव केसेज की संख्या 1421 रह गई है। कोरोना से अब तक हुई मौत का आंकड़ा 31 पहुंच गया है।

रिम्स में तीन की मौत

रविवार को रिम्स में भर्ती तीन मरीजों की मौत हो गई। इनमें एक हजारीबाग, एक धनबाद तथा एक बिहार के गया का है। एक अन्य मरीज कोडरमा का है जिसे रविवार को ही राज अस्पताल में भर्ती किया गया था। किडनी की बीमारी से ग्रसित इस मरीज को रिम्स रेफर किया गया था, जहां पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। वहीं, जमशेदपुर में भी एक मरीज की मौत हो गई। दूसरी ओर, एक मरीज की गोड्डा में और एक की देवघर में मौत हुई।

एक ही परिवार के चार की मौत

धनबाद के जिस मरीज की मौत रविवार को रिम्स में हुई, उसकी मां की भी मौत चार जुलाई को बोकारो के चास स्थित नीलम नìसग होम में हो गई थी। उसके बाद शनिवार को उसके दो भाइयों की भी धनबाद में इलाज के क्रम में मृत्यु हो गई थी। कोरोना संक्रमित तीसरे भाई को इलाज के लिए रिम्स रांची रेफर किया गया था, जिसकी रविवार को मौत हो गई।

कैंसर पीडि़त की जमशेदपुर में मौत

जमशेदपुर में भी कैंसर पीडि़त एक मरीज की मौत हो गई। 55 वर्षीय यह मरीज बाहर से इलाज कराकर दस दिन पहले ही टीएमएच में दाखिल हुआ था। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसका इलाज कोविड अस्पताल में चल रहा था। इधर, हजारीबाग के कटकमसांडी प्रखंड के रोमी पंचायत के एक व्यक्ति की मौत रिम्स कोविड अस्पताल में हो गई। वह अपनी अन्य बीमारी का इलाज कराने रिम्स आया था। जांच रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद उसे कोविड वार्ड में भर्ती किया गया था। इस बीच, रविवार को छठी मौत महागामा प्रखंड क्षेत्र में एक पंचायत सचिव की हुई। उन्हें महागामा अस्पताल लाया गया था। बीती रात महागामा अस्पताल से उन्हें गोड्डा भेज दिया गया, जहां उनकी मौत हो गई। वहीं महागामा अस्पताल को सील कर दिया गया है। बता दें कि राज्य में एक दिन पूर्व भी कोरोना संक्रमित तीन लोगों की मौत हो गई थी। हालांकि इनमें सभी अन्य गंभीर बीमारियों से भी ग्रसित थे।

----------------

कब मिले थे कितने मरीज

7 जुलाई - 179

8 जुलाई - 136

9 जुलाई - 170

10 जुलाई - 156

11 जुलाई - 162

12 जुलाई - 80

----------

एक्टिव केस : 1421

अब तक स्वस्थ : 2308

कोरोना के कुल मामले : 3760

अबतक मौत : 31

अबतक हुई जांच : 180439

----------------

यहां के मरीजों की हुई मौत

। धनबाद (रिम्स)

2. हजारीबाग (रिम्स)

3. गया (रिम्स)

4. कोडरमा (राज हॉस्पिटल)

5. जमशेदपुर

6. देवघर

7. गोड्डा

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.