रांची डीसी छवि रंजन ने जिला टास्क फोर्स की बैठक की. एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों पर कोविड-19 दिशा-निर्देशों के अनुपालन को लेकर दिए सख्ती के आदेश.


रांची(ब्यूरो)। संक्रमित मरीज छूटा तो इंसिडेंट कमांडर सस्पेंड होंगे। यह निर्देश डीसी छवि रंजन ने जिला टास्क फोर्स की बैठक में सोमवार को दिया है। डीसी ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि रेलवे स्टेशन पर जांच के दौरान पॉजिटिव पाया गया एक भी यात्री छूट जाता है तो इंसिडेंट कमांडर सस्पेंड होंगे। उन्होंने कहा है कि तीनों शिफ्ट में इंसिडेंट कमांडर रेलवे स्टेशन पर रहें और पॉजिटिव पाए गए यात्री को स्कॉट करके कोविड अस्पताल में एडमिट करें। साथ ही डीसी ने यह भी कहा कि कोई भी मरीज होम आइसोलेशन में न रहे, इसे सुनिश्चित करें। रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर जांच के दौरान डीसी ने फोर्स की जरूरत होने पर एसएसपी से समन्वय स्थापित करने का निर्देश भी संबंधित पदाधिकारी को दिया। वर्चुअल बैठक में सभी कोषांगों के वरीय प्रभारी, सिविल सर्जन, बीडीओ, इंसिडेंट कमांडर, एमओआईसीए समेत अन्य संबंधित पदाधिकारी जुड़े थे। दरअसल, कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए एक ओर जहां जिला प्रशासन कोविड-19 दिशा-निर्देशों के अनुपालन को लेकर और सख्त हो गया है। वहीं दूसरी ओर एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन में भी विशेष सतर्कता बरती जाएगी। कोई मरीज ट्रेसलेस न हो
बैठक में डीसी छवि रंजन ने कोविड-19 जांच की समीक्षा करते हुए कहा कि रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर जांच के दौरान अगर कोई यात्री संक्रमित पाया जाता है तो वो किसी भी हाल में ट्रेसलेस नहीं होना चाहिए। संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि एंबुलेंस तैयार रखें और मरीज को स्कॉट करते हुए कोविड अस्पताल में भर्ती कराना सुनिश्चित करें। डीसी ने सैंपल देने वाले यात्रियों के मोबाइल नंबर वेरिफिकेशन के लिए हर जांच टीम में एक कर्मी की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।एयरपोर्ट व स्टेशन पर मजिस्ट्रेटबैठक में डीसी ने कहा कि अभी से लेकर छठ पूजा तक विशेष सतर्कता बरतें। उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर पर्याप्त मात्रा में मजिस्ट्रेट की तैनाती करें। डीसी ने कहा कि त्योहार के दौरान दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में लोग ट्रेनों से आएंगे, उन्होंने बिहार, महाराष्ट्र, नई दिल्ली आदि जगहों से आनेवाली ट्रेनों के दौरान पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु एसडीओ और एडीएम को आवश्यक निर्देश दिए। मरीजों की डेली रिपोर्ट देंडीसी ने जिला में पॉजिटिव पाए जानेवाले मरीजों की प्रतिदिन रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि कितने मरीज किस जगह से मिले, इसकी जानकारी रिपोर्ट मेें दें।सदर अस्पताल व रेसालदार सीएचसी दोनों फंक्शनल


कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए डीसी ने सदर अस्पताल और रेसालदार सीएचसी में व्यवस्था से संबंधित जानकारी ली। सिविल सर्जन ने बताया कि सदर अस्पताल और रेसालदार सीएचसी दोनों फंक्शनल हैं। डीसी ने कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित न हो इसे सुनिश्चित करने का निदेश दिया, उन्होंने कहा कि सभी पाइपलाइन और प्वाइंट चेक कर लें।इंफोर्समेंट टीम बरतेगी सख्तीरांची में कोविड-19 दिशा-निर्देशों के अनुपालन को लेकर इंफोर्समेंट टीम सख्ती बरतेगी। डीसी ने कोविड-19 दिशा-निर्देशों के अनुपालन के लिए अभियान चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जिन प्रतिष्ठानों/दुकानों में दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा, उनपर कार्रवाई करें।सर्वे कार्य व पर्ची वितरण की समीक्षाबैठक के दौरान वैक्सीनेशन के सेकंड डोज के लिए छूटे लोगों के लिए डोर टू डोर सर्वे कार्य की भी समीक्षा की गई। डीसी ने कहा कि शत प्रतिशत सर्वे का कार्य पूरा करें और निर्धारित फॉर्मेट में प्रतिदिन रिपोर्ट उपलब्ध कराएं कि कितने लोगों को पर्ची बांटी गई। डीडीसी विशाल सागर ने भी प्रखंडवार समीक्षा करते हुए संबंधित बीडीओ को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।मोरहाबादी में होगी वैक्सीनेशन की व्यवस्था

आने वाले दिनों में मोरहाबादी मैदान में रोज सुबह मॉर्निंग वाक के लिए आनेवाले लोगों के लिए वैक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। सुबह 6-10 बजे तक लोग कैंप में टीका ले पायेंगे। डीसी ने इसकी तैयारी को लेकर संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Posted By: Inextlive