सिटी के नागा बाबा खटाल वेजिटेबल मार्केट भवन का बुधवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस वेजिटेबल मार्केट का उद्घाटन किया. जल्द ही इस एरिया के सभी सब्जी दुकानदारों को यहां शिफ्ट कर दिया जाएगा.


रांची(ब्यूरो)। रांची के लोगों का बीस साल पुराना इंतजार खत्म हो चुका है। रातू रोड में नागा बाबा खटाल के अव्यवस्थित बाजार को सरकार ने स्टेट ऑफ आर्ट शॉपिंग डेस्टिनेशन के रूप में डेवलप कर दिया है, जहां फल-सब्जी के साथ ही कई अन्य सामान की खरीदारी का एक बेहतरीन अनुभव मिलेगा। अगले महीने तक सभी होंगे शिफ्ट
नगर निगम के पदाधिकारियों का कहना है अगले महीने तक सभी दुकानदारों को नए वेजिटेबल मार्केट में शिफ्ट कर दिया जाएगा। चार साल से इस मार्केट का निर्माण किया जा रहा था। दो साल पहले ही मार्केट की शुरुआत हो जानी थी, लेकिन कोविड-19 और लॉकडाउन के कारण मार्केट निर्माण में विलंब हुआ। अब काम पूरा हो चुका है। अब सिर्फ लोगों को इंतजार है कब इस बिल्डिंग में खरीदारी करने आएंगे। करीब दस करोड़ की लागत से इस मार्केट का निर्माण किया गया है। जिसमे 193 सब्जी विक्रेताओं और 46 फल दुकानदारों को जगह दी जाएगी। लोगों को खरीदारी करने में किसी तरह की परेशानी न हो इसका खास ख्याल रखा जाएगा। यह झारखंड का पहला सेमी अंडर ग्राउंड सब्जी मार्केट है, जो देखने में काफी खूबसूरत भी है। पार्किंग की भी होगी व्यवस्था


नए वेजिटेबल मार्केट में लोगों को पार्किंग की सुविधा भी मिलेगी। मार्केट के बेसमेेंट में पार्किंग बनाया गया है, जिसमें करीब 500 दोपहिया वाहन की पार्किंग हो सकेगी। ग्राउंड और फस्र्ट फ्लोर पर सब्जी और फल की दुकानें रहेंगी, जबकि सेकेंड फ्लोर पर ननवेज की खरीदारी कर सकेंगे। फिलहाल बाजार में सब्जी खरीदने के लिए आने वाले लोगों के सामने गाड़ी खड़ी करने की बड़ी समस्या रहती है। लोग रोड पर ही गाड़ी खडी कर सब्जी की खरीदारी करने लगते हंै, जिससे रोड पर आने-जाने वाले लोगों को भी दिक्कत होती है। सड़क पर जाम की स्थिति बन जाती है। नागा बाबा खटाल के कारण किशोरी यादव चौक से लेकर कचहरी चौक तक पूरे दिन जाम लगा रहता है। नए वेजिटेबल मार्केट में बसने के बाद लोगों को जाम से निजात मिलेगी। मार्केट में सुरक्षा का भी ख्याल रखा गया है। हर तरफ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इसके अलावा मार्केट में सिक्योरिटी गार्ड भी तैनात किये जाएंगे। दुकानदार और ग्राहक भी खुश

वेजिटेबल मार्केट बनने से सब्जी बेचने वालों में भी खुशी है। सब्जी खरीदने वाले भी इससे इससे काफी खुश हैैं। दुुकानदारों का कहना है खुली जगह में दुकान लगाने से उन्हें भी परेशानी होती थी। बरसात में तिरपाल का सहारा लेना पड़ता था। बारिश के समय पूरे मार्केट में कीचड़ से परेशानी होती थी। अब स्थायी शेड मिल जाने से दुकान लगाने में भी आसानी होगी। दुकानदारों ने कहा कि प्रशासन द्वारा भी उन्हें बार-बार तंग किया जाता है। सामान और सब्जी भी जब्त कर ली जाती थी। कभी-कभी फेंक भी देते थे, जिससे काफी नुकसान भी होता था।दुकान नहीं मिलने से नाराजगीकुछ दुकानदारों में नाराजगी भी है। कुछ दुकानदारों का कहना है नगर निगम ने सही तरीके से सर्वे नहीं कराया है। इससे मार्केट के बाहर के लोगों को दुकान मिल जाएगा। मार्केट में दुकान लगाने वाले कई ऐसे लोग हैं, जो सालों से दुकान लगा रहे हैं लेकिन उनका नाम ही लिस्ट में नहीं है। रातू रोड से कचहरी की बदल जाएगी सूरत
वेजिटेबल मार्केट पूरी तरह से शुरू होने के बाद रातू रोड से लेकर कचहरी तक की सूरत बदल जाएगी। राजभवन के समीप सब्जी मार्केट के कारण ही यह पूरा इलाका तहस-नहस नजर आता है। रही-सही कसर ऑटो वाले पूरी कर देते हैं। मार्केट शुरू होने के बाद ऑटो स्टैंड भी व्यवस्थित किया जाएगा। पास में डॉ जाकिर हुसैन पार्क को भी जीवित कर लिया गया है, जिससे लोगों को सब्जी खरीदने के साथ-साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करने की भी जगह मिल जाएगी। नगर निगम इस स्थान को और खूबसूरत बनाने की तैयारी में जुटा है। किशोरी यादव चौक का भी ब्यूटिफिकेशन किया जाना है। सभी प्रोजेक्ट पूरे होने पर रातू रोड से गुजरने वाले लोगों को बेहतरीन अनुभव होगा

Posted By: Inextlive