पार्षदों ने मेयर पर लगाया रोड़ा अटकाने का आरोप

Updated Date: Mon, 12 Apr 2021 10:20 AM (IST)

रांची: रांची नगर निगम में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। वैसे तो पहले भी मेयर आशा लकड़ा और नगर आयुक्त के बीच अनबन की खबरें आती रही हैं। लेकिन, इधर वार्ड पार्षदों के साथ भी मेयर की खटपट शुरू हो चुकी है। यह खटपट उन पांच योजनाओं को लेकर है, जिसे मेयर आशा लकड़ा ने रोकने को कहा है। मेयर के इस रवैये के बाद शनिवार को पार्षदों ने बैठक की और मेयर से जन सरोकार वाले मुद्दों को प्रभावित नहीं करने का आग्रह किया है। मेयर पर आरोप लगाते हुए वार्ड 34 के पार्षद विनोद सिंह ने कहा कि जनता की भलाई के लिए योजना को मेयर बेवजह खारिज कर रही हैं। मेयर रांची नगर निगम क्षेत्र का विकास करना ही नहीं चाहती हैं। विनोद सिंह ने कहा कि बोर्ड निगम में पास हो चुके पांच जनोपयोगी योजनाओं को मेयर ने सिर्फ अपनी जिद के कारण लटका रखा है।

विकास विरोधी कैसे

पार्षद ओम प्रकाश ने कहा कि पांच योजनाओं में एक विधानसभा के रास्ते पर स्ट्रीट लाइट लगवानी भी शामिल है। लाइट लग जाने से आम जनों को ही इसका फायदा होगा। ऐसे में यह योजना कैसे जन विरोधी है, यह मेयर बताएं। इसके अलावा मोहल्लों में लगी लाइट में स्विच को रिप्लेस कर टाइमर लगाने की योजना है। टाइमर के इस्तेमाल से बिजली का दुरुपयोग होने से बचेगा तथा मेंटेनेंस की राशि की भी बचत होगी। इसे दूसरे काम में उपयोग किया जा सकेगा। यह योजना कैसे विकास विरोधी हो सकती है। इसके अलावा पार्क में नि:शुल्क व्यवस्था होने से जनता को ही इसका फायदा होगा।

क्या कहते हैं पार्षद

मोरहाबादी मैदान रांची शहर की शान है। इसे सुंदर बनाए रखना रांची नगर निगम और आम लोगों का कर्तव्य है। ऐसे में विकास की योजना बनती है, तो उसमें रोड़ा नहीं अटकाना चाहिए। विधानसभा लोकतंत्र का मंदिर है। इसे सुंदर बनाए रखना हमलोगों का राजनीतिक धर्म है। इस योजना को लटकाना समझ से परे है। मेयर को इस दिशा में सकारात्मक पहल करनी चाहिए।

- अरुण झा, वार्ड 26

पांच योजना जिसे मेयर ने रोकने को कहा है, वो सभी जनोपयोगी हैं। लाइट लगने से आम पब्लिक का ही फायदा होगा। इसके अलावा टाइमर से ही बिजली की बचत होगी। न जाने क्यों मेयर जनोपयोगी योजनाओं को रोकना चाह रही हैं। अपनी हठधर्मिता के आगे मेयर जनता को भी बेवकूफ बना रही हैं।

- ओम प्रकाश, वार्ड 27

मेयर आशा लकड़ा पार्षदों के साथ भेदभाव करती हैं। उनके बदले की भावना एवं पूर्वाग्रह से प्रेरित व्यवहार सभी पार्षदों के लिए तकलीफदेह है। जनोपयोगी योजना जिस बोर्ड बैठक में पास कर दी गयी है, उस पर रोड़ा अटकाना कहीं से भी उचित नहीं है। सभी योजनाएं आम जनों के हित से संबंधित हैं।

- विनोद सिंह, वार्ड 34

जिन योजनाओं को मेयर रोकना चाह रही हैं, वो कहीं से भी जन विरोधी नहीं हैं। नगर निगम जनता के हित के लिए काम करता है न कि उनके अहित के लिए। मेयर सिर्फ अपनी जिद की वजह से इन योजनाओं को रोक रही हैं। सभी योजना बोर्ड से पास हैं और सभी पर काम होगा। यदि मेयर अनुमति नहीं देती हैं, तो हम लोग जनता के पास जाएंगे।

- रश्मि चौधरी, वार्ड 28

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.