एक यूनिक बिजनेस आइडिया बदल देगी आपकी जिंदगी

Updated Date: Wed, 02 Mar 2016 02:10 AM (IST)

RANCHI : अगर आप अपना उद्यम स्थापित करना चाहते हैं। आपके पास कोई यूनिक बिजनेस आइडिया है तो राज्य सरकार आपके प्रोजेक्ट के लिए हर संभव मदद करेगी। आपको तकनीक के साथ आर्थिक मदद मुहैय्या कराई जाएगी। स्टार्ट अप इंडिया प्रोग्राम के तहत उभरते युवा उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए यह पहल की जा रही है। इसके तहत सरकार और बेहतर बिजनेस आइडिया रखने वाले स्टार्ट अप्स एक-दूसरे की मदद करेंगे।

खुलेंगे इंक्यूबेशन सेंटर

उद्यम व उद्यमियों को प्रमोट करने के लिए स्टार्टअप इंडिया के तहत सरकार ने इंक्यूबेशन सेंटर स्थापित करने का फैसला किया है। इसमें उद्यम शुरू करने वाले युवाओं को सरकार की ओर से आर्थिक मदद के साथ अनुभवी टीम और बाजार उपलब्ध कराएगी। इसके लिए राज्य के पांच संस्थानों की मदद ली जाएगी। इन्हीं पांचों संस्थान में इंक्यूबेशन सेंटर स्थापित किया जाएगा।

तैयार हो रही है पॉलिसी

आईटी डिपार्टमेंट के एक अधिकारी ने बताया कि झारखंड मे स्टार्ट अप इंडिया प्रोग्राम को धरातल प उतारने के लिए उद्योग विभाग की ओर से पॉलिसी बनाई जा रही है। इस प्रोग्राम के लिए सरकार की ओर से बजट में पचास करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है। इस फंड से न्यू वेंचर स्टार्ट करने वाले युवाओं को आर्थिक सहयोग दी जाएगी। जल्द ही पॉलिसी लागू कर दी जाएगी। इसके बाद युवा उद्यमियों को इसका फायदा मिल सकेगा।

ऐसे की जाएगी मदद

बीआईटी मेसरा, आईआईएम रांची, एक्सएलआरआई जमशेदपुर, एनआईटी जमशेदपुर और बिरसा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, कांके में इंक्यूबेशन सेंटर खोला जाएगा। ये संस्थान स्टार्ट अप के तहत बिजनेस शुरु करने वाले युवाओं को बाजार के हिसाब से तैयार करेगी। नए स्टार्टअप्स को इंक्यूबेशन सेंटर से हर तरह की सपोर्ट दी जाएगी। बीआईटी मेसरा इंजीनियरिंग क्षेत्र से जुड़े अनुभव के तौर पर मदद करेगी, तो आईआईएम रांची मैनेजमेंट के तौर पर सपोर्ट करेगी, बिरसा एग्रीकल्चर यूनिर्वसिटी एग्रीकल्चर क्षेत्र से जुडे अनुभव के आधार पर स्टार्ट अप को सहयोग करेगी।

क्या है स्टार्टअप इंडिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नया उद्यम शुरू करने वाले स्टार्टअप कारोबारियों के लिए 16 जनवरी 2016 को स्टार्टअप इंडिया लांच किया है। इसमें तीन साल का टैक्स अवकाश, पूंजीगत लाभ टैक्स से छूट, इंस्पेक्टर राज मुक्त परिवेश और वित्तपोषण के लिए 10000 करोड़ रुपये का कोष स्थापित करने सहित कई तरह के प्रोत्साहनों की घोषणा की गई है। इसमें कारोबारियों द्वारा कमाये जाने वाले मुनाफे पर व्यावसाय शुरू होने के पहले तीन साल तक इनकम टैक्स से छूट होगी। इस प्रोग्राम का मकसद उद्यम व उद्यमियों को बढ़ावा देना है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.