2020 अमेरिकी राष्टपति चुनाव ट्रंप की नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद कर कमला ने शुरू किया अपना चुनाव अभियान

2019-01-28T13:20:59Z

अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों के खिलाफ अपनी रैली में आवाज उठाकर 2020 में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए अभियान शुरू कर दिया है। रविवार को उन्होंने कैलिफोर्निया के ऑकलैंड में एक रैली आयोजित की।

वाशिंगटन (रॉयटर्स)। भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस ने रविवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों के खिलाफ अपनी रैली में आवाज उठाकर 2020 में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए अभियान शुरू कर दिया है। रविवार को रैली उन्होंने अपने होमटाउन कैलिफोर्निया के ऑकलैंड में आयोजित की और यहां उन्होंने कहा, 'हमारा नारा, 'कमला सिर्फ लोगों के लिए' है, एक अभियोजक के रूप में मैनें यौन हिंसा पीड़ितों और जेल अभियोजन कार्यक्रम के लिए देश में खूब आवाज उठाई।' इसके बाद उन्होंने मैक्सिको बॉर्डर पर दीवार खड़े करने वाली ट्रंप की नीति का विरोध करते हुए कहा, 'यह फैसला ड्रग्स, बंदूक और मानव तस्करी करने वाले गिरोह को रोक नहीं पाएगा।'

बच्चों पर मौजूदा सरकार ने किया अत्याचार

हैरिस ने रैली में 20,000 लोगों के सामने कहा, 'हम यहां इसलिए हैं क्योंकि अमेरिका के सपने और हमारे लोकतंत्र पर लगातार हमला हो रहा है। पहले कभी भी फ्री प्रेस को धमकाया नहीं गया, सरकार की लगातार कोशिश रही कि वे हमारी लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर करें, यह हमारा अमेरिका नहीं है।' उन्होंने कहा कि अगर वे राष्ट्रपति बन जाती हैं तो वे हमेशा शालीनता के साथ कोई बात बोलेंगी और सभी लोगों से सम्मान के साथ पेश आएंगी। वे ईमानदारी के साथ आगे बढ़ेंगी और हमेशा सच बोलेंगी। बता दें कि पिछले साल दक्षिणी सीमा पर कई लोगों को गिरफ्तार कर हजारों अप्रवासी बच्चों को ट्रंप प्रशासन ने उनके माता-पिता से अलग कर दिया था। हैरिस ने अपनी रैली में इस मुद्दे पर भी ट्रंप को घेरा, उन्होंने कहा, 'मौजूदा सरकार ने कई छोटे बच्चों को उनके माता और पिता से दूर करके उन्हें एक पिंजरे में बंद कर दिया, वे काफी समय तक रोते रहे, उस वक्त इस कारनामे को प्रशासन ने सीमा का सुरक्षा बताया था। यह सुरक्षा नहीं मानवाधिकार का हनन है और यह हमारा अमेरिका नहीं है!' बता दें कि कमला हैरिस ने पिछले सोमवार को चुनाव प्रचार शुरू करते हुए घोषणा की कि वे भी 2020 में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेंगी।
कमला के अलावा कई लोग राष्ट्रपति उम्मीदवार की दौड़ में
कमला के अलावा अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड, सीनेटर एलिजाबेथ वारेन, सीनेटर क‌र्स्टन गिलिब्रांड और जूलियन कास्त्रो ने भी राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल होने की घोषणा कर दी है। बता दें कि कमला हैरिस की मां श्यामला गोपालन हैरिस मूल रूप से तमिलनाडु की रहने वाली थीं। वे 1960 में भारत से अमेरिका में जाकर बस गईं थीं। कमला के पिता डोनाल्ड हैरिस अफ्रीकी मूल के अमेरिकी थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कमला जब सिर्फ सात साल की थीं, तभी उनके माता-पिता का तलाक हो गया था।

ट्रंप के खिलाफ राष्ट्रपति पद की दावेदारी के तुरंत बाद कमला हैरिस पर अमेरिकी हुए मेहरबान, 24 घंटे में दे दिए डेढ़ मिलियन डाॅलर

अमेरिका : कमला हैरिस के बाद तुलसी गबार्ड ने भी राष्ट्रपति चुनाव के लिए आधिकारिक तौर पर लॉन्च किया अपना कैंपेन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.