कानपुर सेंट्रल स्टेशन बनेगा ईको स्मार्ट

2019-03-18T09:11:33Z

पैसेंजर्स की हेल्थ के लिए रेलवे स्टेशनों पर बेहतर एनवॉयरमेंट बनाने को एनजीटी के निर्देश कानपुर सेंट्रल भी शामिल

- वर्क प्लान तैयार, पॉलीथिन बैन करने के साथ डेवलप किया जाएगा ग्रीन जोन, जल्द शुरू होगा काम, मिली 'हरी झंडी'

kanpur@inext.co.in
kanpur. दिल्ली-हावड़ा रूट का अहम और व्यस्त स्टेशन कानपुर सेंट्रल को इको स्र्माट स्टेशन बनाने की तैयारी शुरू हो गई है. पैसेंजर्स को बेहतर एनवॉयरमेंट देने के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी) ने रेलवे को कानपुर सहित देश के 37 स्टेशनों को इको स्मार्ट बनाने के आदेश दिए हैं. ईको स्मार्ट स्टेशन मतलब जहां 100 फीसदी शुद्ध हवा और गंदगी मुक्त वातावरण. जिसके तहत पटरियों को शौच मुक्त करने, ट्रेनों से पटरियों पर गंदगी गिरने, वेस्ट मैनेजमेंट की ठोस पॉलिसी बनाकर तीन महीने में रिजल्ट देने को कहा गया है. सेंट्रल स्टेशन पर पॉलीथिन पूरी तरह से बैन होगी. रेलवे ने एनजीटी के आदेश पर अमल करने की तैयारी शुरू कर दी है.

प्लास्टिक पूरी तरह से प्रतिबंधित
एनसीआर जोन के सीपीआरओ गौरव कृष्ण बंसल ने बताया कि जोन के मुख्य स्टेशनों को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने की तैयारी की जा रहा है. इससे पैसेंजर्स को स्टेशन में शुद्ध वातावरण मिलेगा. स्टेशन परिसर में पॉलीथिन पूरी तरह से बैन कर दी जाएगी. कहीं भी कूड़ा नहीं दिखाई देगा. अधिकारियों के मुताबिक, वर्तमान में स्टेशनों के विभिन्न स्टॉल्स पर फूड आइटम्स पॉलीथिन में पैक कर पैसेंजर्स को दिया जाता है. नए नियम लागू होने के बाद खाने के आइटम को सिर्फ लिफाफे या फिर जूट के बैग में ि1दया जाएगा.

ग्रीन जोन हाेगा डेवलप
सीपीआरओ के मुताबिक सेंट्रल स्टेशन को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए सिटी साइड ग्रीन जोन डेवलप किया जाएगा. जिसमें विभिन्न प्रकार के पौधों को लगाया जाएगा. इसके लिए जगह भी चिन्हित कर ली गई है. पीआरओ अमित मालवीय ने बताया कि कानपुर सेंट्रल स्टेशन के सिटी साइड दो साल पहले स्वतंत्रता संग्राम से जुडी हस्तियों के स्टैच्यू वाला पार्क डेवलप किया गया था. जिसमें भी पौधों को लगाकर हरा-भरा रखा जा रहा है.

जल्द शुरु हो जाएगा काम
कानपुर सेंट्रल स्टेशन को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए किए जाने वाले कामों को ब्ल्यू प्रिंट बनाकर जोनल ऑफिस भेज दिया गया है. जहां से प्रस्तावित बजट की फाइल रेलवे बोर्ड भेजी जा चुकी है. बोर्ड की मोहर लगते ही इको स्मार्ट लिए जरूरी काम शुरू हो जाएंगे. एनजीटी ने मार्च के लास्ट तक इको स्मार्ट स्टेशन के लिए वर्क प्लान मांगा है.

ऐसे बनेगा ईको स्मार्ट

- पूरे स्टेशन परिसर में आरओ का शुद्ध पेयजल मिलेगा

- स्टेशन से निकलने वाला पानी रिसाइकल कर छोड़ा जाएगा

- स्टेशन के प्लेटफार्मो पर बनाए जाएंगे बॉयो टॉयलट

- कूड़ा निस्तारण के लिए बनाई जाएगी ठोस रणनीति

- शुद्ध वातावरण के लिए ग्रीन जोन तैयार किया जाएगा

- स्टेशन परिसर में पॉलीथिन पूरी तरह से बैन कर दी जाएगी

कोट

पैसेंजर्स के लिए बेहतर एनवॉयरमेंट देने को एनजीटी ने कानपुर सेंट्रल सहित देश के 37 स्टेशनों को इको स्मार्ट बनाने के आदेश दिए हैं. रेलवे बोर्ड से सिगनल मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा. सेंट्रल आने वाले लाखों पैसेंजर्स को फायदा मिलेगा.
- गौरव कृष्ण बंसल, सीपीआरओ, एनसीआर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.