कानपुर को मिला 300 करोड़ का मेडिकल सिटी प्रोजेक्ट

2019-06-27T06:01:08Z

- पीएमएसएसवाई के बाद जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के अपग्रेडेशन के लिए स्टेट गवर्नमेंट की पहल

- फेजवाइज मजबूत होगा इंफ्रास्ट्रक्चर आगरा का एसएन मेडिकल कॉलेज भी योजना में शामिल

- मेडिकल कॉलेज को अपग्रेड करने के लिए शासन ने दी कमिश्नर को जिम्मेदारी

KANPUR: जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के अपग्रेडेशन के लिए पीएमएसएसवाई प्रोजेक्ट के बाद अब स्टेट गवर्नमेंट जल्द ही एक और बड़ी घोषणा करने की तैयारी में है। पीएम मोदी की मेडिकल सिटी थीम के तहत इस मेडिकल कॉलेज में इंफ्रास्ट्रक्चर, स्टाफ और क्लीनिकल सुविधाओं में इजाफा होगा। शासन ने इसकी जिम्मेदारी कमिश्नर को सौंपी है। टयूजडे को कमिश्नर सुभाष चंद्र शर्मा ने मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों के साथ मीटिंग कर जरूरी चीजों के लिए प्रस्ताव मांगा। इन सभी कामों को फेज वाइज किया जाना है। कानपुर के अलावा आगरा के मेडिकल कालेज का भी इसी योजना के तहत अपग्रेडेशन होगा। इसको लेकर अगली कैबिनेट मीटिंग में प्रस्ताव रखा जा सकता है।

300 करोड़ का प्रोजेक्ट

जीएसवीएम मेडिकल कालेज हो या फिर आगरा का एसएन मेडिकल कालेज दोनों ही प्रदेश के पुराने मेडिकल कालेज हैं। इन दोनों कालेजों में प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत सुपरस्पेशिएलिटी ब्लॉक का निर्माण चल रहा है। अब शासन स्तर से इन दोनों मेडिकल कालेजों को पीएम मोदी के मेडिकल सिटी थीम पर डेवलप करने की पहल हुई है। इसके लिए कानपुर और आगरा के कमिश्नर सारे प्रपोजल तैयार कराएंगे। टयूजडे को इस बाबत हुई मीटिंग में मेडिकल कालेज प्रशासन के साथ केडीए और पीडब्ल्यूडी को भी शामिल किया गया। जोकि डेवलपमेंट वर्क में आने वाले खर्च का एस्टीमेट तैयार कराएंगे। यह प्रोजेक्ट फेज के मुताबिक चलेगा। जिससे शासन पर भी ज्यादा बोझ न पड़े। दोनों मेडिकल कालेजों के लिए अनुमानित तौर पर 300-300 करोड़ रुपए के फंड मुहैया कराया जा सकता है।

मेडिकल कॉलेज का इन पर फोकस-

- लेवल-1 का ट्रामा सेंटर निर्माण

- इमरजेंसी और आईसीयू अपग्रेडेशन

- रेजीडेंट्स और मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए हॉस्टलों का पुननिर्माण

- इनडोर काम्प्लेक्स

- सीटी स्कैन और एमआरआई

- न्यूरो साइंस सेंटर इंस्टीटयूट

-----------

वर्जन-

हास्पिटल के अपग्रेडेशन के लिए कमिश्नर ने मीटिंग बुलाई थी। इसमें फ‌र्स्ट फेज में होने वाले कामों के लिए प्राथमिकता के आधार पर प्रपोजल तैयार करा कमिश्नर को भेजेंगे।

- प्रो। आरके मौर्या, एसआईसी, एलएलआर एंड एसोसिएटेड हास्पिटल

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.