कांवड़ पटरी मार्ग से गुजरेंगे कांवडि़ए

2019-06-29T06:00:53Z

गंगनहर कांवड़ पटरी मार्ग समेत हाइवे पर ब्लैक स्पॉट हो रहे चिह्नित

सुरक्षा का खाका तैयार, पटरी मार्ग पर 127 कट्स पर मुस्तैद रहेगी पुलिस

Meerut। एनएच 58 पर कांवडियों के दबाव को कम करने के लिए इस बार कांवड़ पटरी मार्ग पर पुलिस-प्रशासन कड़े बंदोबस्त कर रहा है। इसको लेकर विभिन्न विभागों ने कांवड़ पटरी मार्ग पर व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का काम शुरू कर दिया है। 15 जुलाई से शुरू होने वाली कांवड़ यात्रा की तैयारियां तेज हो गई है, वहीं हादसों पर लगाम लगाने के लिए हाइवे और कांवड़ मार्ग पर अवैध कट्स और ब्लैक स्पॉट को चिह्नित किया जा रहा है। कांवड़ मार्ग पर इस बार 250 सीसीटीवी से निगरानी कराई जाएगी।

कट्स नहीं आएंगे आड़े

डीएम अनिल ढींगरा के निर्देशन में कांवड़ पटरी मार्ग पर सुरक्षा और व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। बता दें कि मुरादनगर से उत्तराखंड के बीच 110 किलोमीटर लंबे कांवड़ पटरी मार्ग पर 127 कट्स चिह्नित किए गए हैं। इन कट्स पर पुलिसफोर्स तैनात रहेगी जिससे कि वाहनों का आवागमन कांवड़ यात्रा को प्रभावित न करे। कट्स और ब्लैक स्पॉट पर अतिरिक्त पुलिस की तैनाती के मद्देनजर 20 प्रतिशत अधिक फोर्स की मांग की गई है। कांवड़ यात्रियों की निगरानी के लिए ड्रोन और हेलीकॉप्टर भी तैनात जा रहे हैं। किए गए हैं।

एक नजर में

127 कट चिह्नित

36 स्थानों पर छत से ड्यूटी

6 क्यूआरटी (क्विक रिस्पांस टीम)

2 बम निरोधक दस्ते

2 एएसए टीम

12 घुड़सवार पुलिस

12 वॉच टावर

26 स्थानों पर पब्लिक एड्रेसिंग सिस्टम

12 दमकल गाडि़यां

1 एटीएस टीम

6 स्थानों पर क्रेन

4 स्थानों पर कंट्रोल रूम

1 मास्टर इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम (कलक्ट्रेट में)

8 स्थानों पर ड्रोन

कांवड यात्रा की तैयारी को लेकर पुलिस-प्रशासन के अलावा विभिन्न विभागों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। कांवड़ पटरी मार्ग पर कांवडि़यों के मूवमेंट को बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कांवड़ यात्रा को संपन्न कराया जाएगा।

अनिल ढींगरा, डीएम, मेरठ


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.