पुलिस पीएसी के साये में रोकी गई बिजली चोरी

2018-08-12T06:01:15Z

लाइनलास के सबसे बड़े एरिया रसूलपुर और तुलसीपुर में चलाया गया व्यापक अभियान

ALLAHABAD: करेलाबाग डिवीजन के अन्तर्गत आने वाले लाइन लास के सबसे बड़े केन्द्र रसूलपुर और तुलसीपुर में शनिवार को अधिकारियों ने व्यापक अभियान चलाया। नौ अगस्त को इन्हीं दोनों एरिया में ओवरहेड लाइन उतरवाने के दौरान देर रात तक हंगामा हुआ था। इसके चलते दोनों एरिया की लाइन काट दी गई थी। यही वजह रही कि शनिवार को ओवर हेड एलटी लाइन को उतारकर भूमिगत केबिल से लाइन चालू करने के लिए करेलाबाग डिवीजन के अधिशाषी अभियंता घनेन्द्र सिंह को भारी संख्या में पुलिस बल और पीएसी के जवानों को बुलाना पड़ा।

दो घंटे तक मचा रहा हड़कंप

अधिशाषी अभियंता की अगुवाई में पुलिस फोर्स दोपहर दो बजे चार सौ केवीए के तुलसीपुर फीडर के अन्तर्गत आने वाले घरों में ओवरहेड लाइन को उतारने पहुंची। बड़ी संख्या में फोर्स को देखकर एरिया में हड़कंप मच गई। एक घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान सभी घरों के ऊपर से गुजरने वाली लाइन को हटा दिया गया।

रसूलपुर में भी दिखा असर

तुलसीपुर के बाद अधिकारियों की टीम रसूलपुर एरिया में पहुंची। वहां दर्जनों लोगों ने ओवर हेड लाइन उतारने का विरोध किया लेकिन पुलिस की मौजूदगी से तुरंत शांत भी हो गए। यहां एक घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान डेढ़ सौ से अधिक घरों के ऊपर से जाने वाली लाइन को हटाया गया।

रसूलपुर और तुलसीपुर एरिया में अस्सी फीसदी तक लाइन लास होता था। ऐसा ओवर हेड लाइन में कटिया मारने से हो रहा था। दोनों एरिया में भूमिगत केबिल बिछाई जा रही है। इसी क्रम में शनिवार को फोर्स को साथ लेकर पूरे एरिया में ओवरहेड लाइन को हटाया गया।

घनेन्द्र सिंह, अधिशाषी अभियंता, करेलाबाग डिवीजन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.