वाड्रा -‍डीएलएफ विवाद के दस्‍तावेज गायब होने से भड़के खेमका

2014-12-19T14:51:23Z

रॉबर्ट वाड्रा और डीएलएफ के बीच विवादित जमीन सौदे की फाइल में से जरूरी डॉक्‍यूमेंट गायब होने की बात सामने आई है. इस मामले में आईएएस अशोक खेमका ने राज्‍य सरकार से एफआईआर दर्ज किए जाने की मांग उठाई है.

वाड्रा-डीएलएफ विवाद के दस्तावेज गायब
रॉबर्ड वाड्रा और डीएलएफ के बीच हुए विवादित जमीन सौदे के अहम दस्तावेजों के गायब हो गए हैं. दरअसल इस मामले की जांच करने वाले अधिकारी अशोक खेमका ने जब आरटीआई दाखिल करके जमीन सौदे की फाइल हासिल की तो फाइल में से दो पन्ने गायब मिले. गौरतलब है कि इन दो पन्नों के गायब होने से पूरे मामले की जांच प्रभावित हो सकती है. यह देखकर आईएएस अधिकारी खेमका ने राज्य सरकार से इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की मांग की है. इसके साथ ही खेमका ने मामले की जांच शुरू से कराने और दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाही करने की मांग उठाई है.
आखिर क्यों गायब हुए दस्तावेज
सूत्रों के अनुसार वाड्रा-डीएलएफ जमीन सौदे की फाइल में से सिर्फ वे दस्तावेज गायब हुए हैं जिनसे यह पता चल सकता था कि पूर्व हरियाणा सरकार ने किन नियमों के तहत जमीन सौदे की जांच करने के लिए जांच कमेटी बनाई थी. इस मामले में हरियाणा के मुख्य सचिव पीके गुप्ता ने कहा, "अशोक खेमका ने फाइल में से महत्वपूर्ण कागज़ात के गायब होने संबंधी खत दिया है, और उन्होंने हमें दो अधिकारियों के नाम भी सौंपे हैं, और हम विभागीय जांच कर रहे हैं... सरकार को इस मामले की रिपोर्ट 10 दिन के भीतर मिल जाएगी..."
बचाव की मुद्रा में बीजेपी सरकार
इस मामले में हरियाणा की खट्टर सरकार डिफेंसिव मोड में नजर आ रही है. फाइल से दस्तावेज गायब होने के बाद से खट्टर सरकार इस दबाव में है कि वह मामले की जांच करने के लिए एक नया आयोग बनाए. हालांकि हरियाणा की नई सरकार ने स्पष्ट किया है कि इस विवाद की कानूनी रूप से जांच की जाएगी.

Hindi News from India News Desk

Posted By: Prabha Punj Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.