Live Uttarakhand Lok Sabha Election 2019 Result Updates पांचों सीट पर बीजेपी का कब्जा हरीश रावत भारी वोटों से हारे

2019-05-24T15:28:38Z

उत्‍तराखंड पांच लोकसभा सीटों पर मतगणना के लिए तैयार। सुबह आठ बजे से शुरू होगी गिनती

कानपुर। उत्तराखंड में लोकसभा की पांचों सीटों पर किस्मत आजमा रहे 52 प्रत्याशियों में से किसे विजय मिली और किसे पराजय का मुंह देखना पड़ा, इसे लेकर चंद घंटों बाद तस्वीर साफ हो जाएगी। गुरुवार को होने वाली मतगणना के लिए निर्वाचन आयोग ने राज्य में सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। सभी जिला मुख्यालयों में मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू होगी। चुनाव में कई दिग्गजों की साख दांव पर लगी है। इनमें केंद्रीय राज्यमंत्री अजय टम्टा, पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद रमेश पोखरियाल निशंक, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष प्रीतम सिंह, भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तीरथ सिंह रावत और पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद खंडूड़ी के पुत्र मनीष खंडूड़ी मुख्य रूप से शामिल हैं।


कौन आगे
कौन पीछे
सीटपार्टीप्रत्याशी
पार्टीप्रत्याशी
अंतरटिहरी गढ़वालbjp
माला राज्य लक्ष्मी सिन्हा
जीतेinc
प्रीतम सिंह
300586
गढ़वालbjp
तीरथ सिंह रावत
जीतेinc
मनीश खंडूरी
302669
अल्मोड़ाbjp
अजय टमटा
जीतेinc
प्रदीप टमटा
232986
नैनीताल-उधमसिंह नगरbjp
अजय भट्ट
जीतेinc
हरीश रावत
339096
हरिद्वारbjp
रमेश पोख्रियाल
जीतेinc
अम्ब्रीश कुमार

258729

 

लोस चुनाव के प्रथम चरण में राज्य की पांचों लोकसभा सीटों टिहरी, पौड़ी, हरिद्वार, नैनीताल व अल्मोड़ा के लिए माहभर चले चुनाव अभियान के बाद 11 अपै्रल को मतदान हुआ। कुल 7765423 मतदाताओं में से 4775517 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। पांचों सीटों पर इस बार  61.50 प्रतिशत मतदान हुआ। यह आंकड़ा पिछले लोकसभा चुनाव के आसपास ही रहा। मतदान को लेकर महिलाओं ने अधिक सजगता दिखाई है। 64.37 फीसद महिलाओं ने वोट डाले, जबकि 58.87 फीसद पुरुषों ने। 14.67 फीसद थर्ड जेंडर भी बूथों तक पहुंचे।


इसके साथ ही चुनाव में ताल ठोक रहे 52 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम में बंद हो गया। जनादेश किसके पक्ष में गया और किसे पराजय मिली, इसे लेकर गुरुवार को होने वाली मतगणना में तस्वीर साफ हो जाएगी। राज्य निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक सभी जिलों में सुबह आठ बजे से गणना शुरू होगी। लोस सीट मुख्यालयों पर आठ बजे से पोस्टल बैलेट और साढ़े आठ बजे से ईवीएम से मतों की गणना शुरू होंगी। साढ़े सात हजार कर्मचारी मतगणना में जुटेंगे। सभी जगह सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। मतगणना के अंत में हर विधानसभा के पांच बूथों की ईवीएम व वीपीपैट मशीनों में पड़े मतों का मिलान किया जाएगा। इसके बाद ही आधिकारिक नतीजे घोषित किए जाएंगे।
उधर, फैसले की घड़ी करीब आने के साथ ही मुख्य मुकाबले में रहे भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की निगाहें टिक गई हैं। चुनाव में इन दलों के दिग्गजों की साख दांव पर है। यही कारण भी है कि मतगणना के नतीजों को लेकर हर किसी में उत्सुकता का आलम है। गणना से 24 घंटे पहले ही सियासी दलों, प्रत्याशियों व उनके समर्थकों में बेचैनी के साथ ही उत्सुकता खासी बढ़ गई है। इस सबके मद्देनजर भाजपा व कांग्रेस दोनों ने ही गुरुवार को अपने-अपने प्रदेश मुख्यालयों में बाकायदा कंट्रोल रूम बनाए हैं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.