हर तबका कराएगा फ्री में पैथोलॉजी टेस्ट

2014-01-29T09:04:01Z

sunil yadav@inext co inचुनावी माहौल को देखते हुए सरकार एक के बाद एक लुभावनी घोषणाएं कर रही है कुछ भी हो लेकिन ओवरऑल बेनीफिट पब्लिक का ही है अभी तक प्रदेश भर के सरकारी अस्पतालों में पर्चा एक रुपये के साथ गरीबों के लिए सभी प्रकार का इलाज निशुल्क था कुछ दिन पहले सामान्य मरीजों के लिए एक्सरे निशुल्क हुआ और अब पैथोलॉजी की जांचें भी अमीर गरीब सबके लिए निशुल्क होंगी जल्द ही सरकार इसकी घोषणा कर सकती है इससे प्रदेश भर में सरकार का लगभग 18 से 20 करोड़ रुपये का अतिरिक्त सलाना खर्च आएगा

शासन को भेजा प्रस्ताव

अभी तक सरकारी अस्पतालों में सभी प्रकार की सुविधाएं सिर्फ बीपीएल मरीजों के लिए ही नि:शुल्क हुआ करती थीं. एक रुपये के पर्चे के साथ इमर्जेंसी सेवाएं ही फ्री थीं. ओपीडी ओर इनडोर मरीजों को इलाज की कीमत चुकानी पड़ती थी लेकिन कुछ दिन पहले सरकार ने एक्स-रे को फ्री करने की घोषणा की. अब सरकार बड़ा फैसला लेते हुए पैथोलॉजिकल जांचों को फ्री करने जा रही है. इसमें एक अनुमान के तौर पर लगभग 18-20 करोड़ का खर्च आएगा. सभी हॉस्पिटल से सलाना होने वाले खर्च का ब्यौरा मांगा गया है. शासन का आदेश मिलते ही स्वास्थ्य विभाग इसे पूरे प्रदेश के अस्पतालों में लागू करने के आदेश देगा. प्रमुख सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण प्रवीर कुमार ने बताया कि अभी इस पर निर्णय नहीं लिया गया है. जब होगा तो बताया जाएगा.

एक्स-रे हुआ था फ्री

अभी कुछ दिन पहले ही सरकार ने एक्स-रे फ्री का आदेश दिया था. अभी तक स्वास्थ्य विभाग को इसके लिए लगभग 8 करोड़ रुपये सालाना मिलते थे. एक्स-रे की फिल्म और मशीन में आने वाला खर्च इस राशि के अलावा मरीजों से मिलने वाले चार्ज से निकलकर आता था. लेकिन, अब पूरा खर्च सरकार ही देगी.

बीपीएल के लिए तो सब फ्री

सरकारी अस्पतालों में बीपीएल मरीजों के लिए पहले से ही सब प्रकार का इलाज और जांचें फ्री हैं, लेकिन असली बीपीएल मरीजों को इसका लाभ मिलने पर लगातार प्रश्न उठते रहे हैं. ज्यादातर के पास कार्ड ही नहीं होते, जिन मरीजों का बीपीएल के नाम पर इलाज होता है उनमें से ज्यादातर मंत्री, विधायक, आईएएस अधिकारियों और पत्रकारों के सिफारिश से ही होते हैं. शायद इसी कारण सरकार अब सभी प्रकार के मरीजों लिए सब कुछ फ्री करने की तैयारी कर रही है. बलरामपुर हॉस्पिटल के सीएमएस डॉ. यूएन राय ने बताया कि पैथोलॉजी पर रिपोर्ट मांगी गई है, जिसका डाटा एकत्र किया जा रहा है. एक्स-रे सभी रोगियों के लिए फ्री है. हालांकि, मेडिकल फिटनेस बनवाने के लिए आने वालों की जांच फ्री में नहीं है. इमरजेंसी में सभी प्रकार के मरीजों के लिए सब फ्री है. अभी रोगी कल्याण समिति से मिलने वाले पैसे से ही हॉस्पिटल में एक्सरे और पैथोलॉजी का खर्च चलता था अगर ये सब फ्री कर दिए गए तो उसके लिए अलग से लगभग 30-40 लाख रुपए अतिरिक्त बजट की जरूरत पड़ेगी.

क्‍या कहते है जानकार

पैथोलॉजी जांचें नि:शुल्क करने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है. इस पर अभी कोई आदेश नहीं मिला है. डॉ. एएस राठौर डीजी हेल्थ



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.