लोकसभा चुनाव 2019 छठा चरण पूरा बिहार में आठ सीटों पर 5938 परसेंट हुई वोटिंग

2019-05-13T09:42:53Z

छठे चरण का चुनाव हो चुका है। वहीं बिहार में कुल वोटिंग 59 38 प्रतिशत हुई

patna@inext.co.in

PATNA: छठे चरण में रविवार को शिवहर में होमगार्ड जवान की गलती से एक मतदान कर्मी की मौत हो गई. बताया गया कि शिवहर के मतदान केंद्र संख्या 257 में दुर्घटनावश होमगार्ड की बंदूक से चली गोली से एक मतदान कर्मी जख्मी हो गया. बाद में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. दूसरी घटना नरकटियागंज में हुई. यहां सांसद संजय जायसवाल को स्थानीय लोगों ने बंधक बना लिया. वह एक समुदाय विशेष के लोगों द्वारा मतदान केंद्र पर मनमानी की शिकायत पर पहुंचे थे. दूसरी ओर स्थानीय लोगों का आरोप था कि सांसद ने मारपीट की है.

2.13 फीसद अधिक वोटिंग
बिहार की आठ लोकसभा सीटों पर रविवार को हुए मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हो गए. चिलचिलाती धूप के बाद भी मतदाताओं के जोश में कहीं कमी नहीं आई. 59.38 प्रतिशत मतदाताओं ने इस दौरान अपने मताधिकार का उपयोग किया. 2014 की तुलना में 2.13 फीसद अधिक पड़े वोट. पिछले चुनाव इन आठ सीटों पर 57.25 फीसद मतदाताओं ने वोट किया था.प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एच आर श्रीनिवास ने बताया कि वाल्मिकीनगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सिवान और महाराजगंज को मिलाकर कुल 1,38,02,576 लोगों ने मतदान किया. इनमें 73,05,983 पुरूष और 64,96,117 महिला मतदाता हैं. इनके अलावा 476 थर्ड जेंडर ने भी अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.

1.32 करोड़ रुपए जब्त
वाल्मीकिनगर और पश्चिम चंपारण में सर्वाधिक 63 फीसद वोट पड़े, जबकि महाराजगंज में सबसे कम 52 प्रतिश्त वोट डाले गए. अगर लोकसभा वार वोटों का प्रतिशत देखें तो पाते हैं कि हर सीट पर कोई खास बढ़ोत्तरी नहीं हुई है. आंकड़े बताते हैं कि वाल्मीकिनगर में 2, पश्चिमी चंपारण में 3.41, पूर्वी चंपारण में 1.56, शिवहर में 3.27, वैशाली में 2.15, गोपालगंज में 4.60, सिवान में 0.22 तथा महाराजगंज में 0.55 फीसद वोट का इजाफा हुआ है.

श्रीनिवास ने बताया कि मतदान के दौरान उड़न दस्ते ने 1.32 करोड़ नकद ज?त किए. जबकि 11,484.5 लीटर शराब भी ज?त की गई. सुरक्षा दस्ते ने विभिन्न क्षेत्रों से 91 हथियार, 47 कार्टेज और दो बम भी बरामद किए गए हैं. उन्होंने बताया कि छठे चरण के मतदान में रिजर्व सहित 15,920 कंट्रोल यूनिट, 23,685 बैलेट यूनिट तथा 17,440 वीवीपैट का उपयोग हुआ. 114 कंट्रोल यूनिट बनाए गए.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.