लोकसभा चुनाव 2019 सपा ने गोरखपुर से काटा सांसद प्रवीण निषाद का टिकट कानपुर से रामकुमार को उतारा

2019-03-30T13:28:03Z

लोकसभा चुनाव में सभी पार्टियां दमदार प्रत्याशियों को उतारने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही हैं। इसी क्रम में आज सपा ने गोरखपुर से रामभुआल निषाद और कानपुर से रामकुमार को प्रत्याशी बनाया है। सपा ने अपने वर्तमान सांसद प्रवीण निषाद की जगह रामभुआल निषाद पर दांव खेला है।

कानपुर। लोकसभा चुनाव को लेकर इन दिनों सभी राजनैतिक पार्टियों की कोशिश है कि वह हर सीट पर जिताऊ उम्मीदवारों को उतारें। इसके लिए वह काफी सोच-समझ कर प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर रही हैं। यूपी में सपा-बसपा व रालोद के महागठबंधन ने आज कानपुर और गोरखपुर सीट के लिए उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट के मुताबिक सपा ने गोरखपुर से रामभुआल निषाद को और कानपुर से रामकुमार को प्रत्याशी बनाया है। दिलचस्प बात यह है कि सपा ने गोरखपुर में अपने वर्तमान सांसद प्रवीण निषाद की बजाय रामभुआल निषाद पर दांव लगाया है।

निषाद पार्टी यूपी के महागठबंधन से खुद को अलग कर चुकी

वहीं दूसरी ओर खबरें ये भी आ रही हैं कि गोरखपुर की निषाद पार्टी यूपी के महागठबंधन से खुद को अलग कर चुकी है। न्यूज एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट के मुताबिक निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद ने कल अपने कुछ साथियों के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से राजधानी लखनऊ में मुलाकात भी की थी। संजय निषाद ने सीएम योगी आदित्यानाथ को बताया कि निषाद पार्टी ने आज एक बड़ा निर्णय लिया है। उसके मुताबिक हम अब यूपी में बने महागठबंधन का हिस्सा नहीं हैं। हमारी पार्टी और हम स्वतंत्र हैं। ऐसे में स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ सकते हैं या अन्य विकल्प भी तलाश सकते हैं।
कानपुर लोकसभा सीट से भाजपा कांग्रेस के ये हैं उम्मीदवार
वहीं दूसरे दलों की बात बात करें तो भाजपा ने कानपुर लोकसभा सीट पर सत्यदेव पचाैरी तो कांग्रेस ने श्रीप्रकाश जायसवाल को उम्मीदवार घोषित किया है।वहीं सीएम योगी का गढ़ माने जाने वाली गोरखपुर सीट फिलहाल अभी भाजपा और कांग्रेस की ओर से उम्मीदवारों का ऐलान नहीं किया गया है। हालांकि सियासी गलियारों से आ रही खबरों की मानें तो भाजपा यहां पर भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के सुपर स्टार रवि किशन को उतार सकती है। रवि किशन बीते लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर जौनपुर से चुनाव लडे थे। वहीं कांग्रेस ने भी अभी सीट के लिए किसी की प्रत्याशी का नाम फाइनल नहीं किया है।

अमरमणि त्रिपाठी की पुत्री तनुश्री का कांग्रेस से गिरा विकेट, पत्रकार सुप्रिया बनीं प्रत्याशी

पिछले चुनाव में इन सीटों पर थी कांटे की टक्कर, ज्यादा वोटों से जीतने वालों में पीएम मोदी आए थे चौथे नंबर पर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.