लोक सेवा आयोग की सभी परीक्षाएं स्थगित!

2019-06-01T10:21:24Z

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा करायी गयी परीक्षा का पेपर लीक होने की पुष्टि होने के बाद आयोग प्रशासन बैक फुट पर आ गया है

एलटी ग्रेड का पेपर लीक होने की पुष्टि के बाद आयोग ने लिया महत्वपूर्ण फैसला

दिसंबर तक के लिए जारी कैलेंडर को किया गया स्थगित, सचिव ने जारी किये आदेश

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा करायी गयी परीक्षा का पेपर लीक होने की पुष्टि होने और परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार को गिरफ्तार किये जाने के बाद आयोग प्रशासन बैक फुट पर आ गया है. आयोग ने इसी महीने जारी किये गये अ‌र्द्धवार्षिक कैलेंडर को स्थगित कर दिया है. आयोग के सचिव ने शुक्रवार को इसे गजट करवा दिया. प्रतियोगी छात्र इस फैसले को अपनी जीत के रूप में देख रहे हैं. अब उनकी डिमांड है कि परीक्षा नियंत्रक और सचिव की देखरेख में हुई सभी परीक्षाओं को निरस्त करके फिर से कराया जाय.

दिन में हुआ विवाद, शाम को फैसला
एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती का पेपर लीक मामले में गुरुवार को एसटीएफ की वाराणसी युनिट ने आयोग की परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार को गिरफ्तार कर लिया था. पीसीएस मेंस की डेट आगे बढ़ाने को लेकर पहले से आक्रामक प्रतियोगी छात्रों को पुलिस की कार्रवाई से बल मिला तो उन्होंने शुक्रवार को लोक सेवा आयोग के समक्ष बड़े प्रदर्शन का एलान कर दिया था. तय प्रोग्राम के अनुसार सुबह से ही प्रतियोगी छात्र आयोग के सामने सड़क पर डट गये. उग्र प्रदर्शन होने की संभावना को देखते हुए पुलिस ने लाठी भांजकर प्रतियोगी छात्रों को खदेड़ दिया. आधा दिन यह सब चला तो शाम को लोक सेवा आयोग के सचिव ने शाम को विज्ञप्ति जारी करके बताया कि तत्काल प्रभाव से आयोग की आगामी सभी परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है. इसमें 9 जून से आयोजित होने वाले सहायक अभियोजन अधिकारी 2019 की प्रारम्भिक परीक्षा समेत सभी परीक्षाओं के स्थगित करने की बात कही गई है.

अंजू के कार्यकाल की सभी परीक्षाएं निरस्त हों
लोक सेवा आयोग के समक्ष शुक्रवार को प्रदर्शन के लिए जुटे अभ्यर्थियों ने मांग की परीक्षा नियंत्रक और सचिव की देख-रेख में हुई सभी परीक्षाओं को निरस्त करके जांच करायी जाय. इसके बाद आगे की परीक्षा की तिथि घोषित की जाय. बता दें कि पेपर लीक की पुष्टि होने के बाद भी अभी तक आयोग ने एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा को निरस्त करने का फैसला नहीं लिया है. वैसे इसका परिणाम भी अभी तक पेंडिंग है. प्रदर्शन करने वाले छात्र पूरी परीक्षा ही निरस्त करने की मांग कर रहे थे.

कर्मचारियों ने दर्ज करायी आपत्ति
गुरुवार को परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार को पूछताछ के लिए उठाने और वाराणसी में गिरफ्तारी दिखाने को लेकर उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग अधिकारी-कर्मचारी संघ विरोध पर उतर आया है. आयोग के अध्यक्ष को दिये गये ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि संवैधानिक संस्था के जिम्मेदार के साथ इस तरह का बर्ताव न तो विधिक रूप से सही है और न ही व्यवहारिक रूप से. उन्होंने मीडिया-सोशल मीडिया ट्रायल पर रोक, अंजू कटियार से आयोग प्रिमाइस में ही पूछताछ करने, इसकी निष्पक्ष जांच कराने और जब तक जांच चले सभी प्रकार की नियुक्तियों, प्रमोशन, इंटरव्यू आदि पर रोक लगाने की मांग की है.

नौ जून को आयोजित होने वाली सहायक अभियोजन अधिकारी प्री परीक्षा और 20 को जारी जुलाई से दिसंबर 2019 परीक्षाओं का कैलेंडर अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया गया है. आगे की सूचना बाद में दी जाएगी.

जगदीश, सचिव, यूपीपीएससी

Posted By: Vijay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.