UP: लखनऊ में दिन दहाड़े बीटेक स्टूडेंट के मर्डर से मची सनसनी, एक दिन पहले पार्टी में जूनियर्स से हुआ था विवाद

2020-02-21T09:11:42Z

लखनऊ के गोमतीनगर में गुरुवार दिनदहाड़े एक दर्जन से ज्यादा बेखौफ हमलावरों ने बीटेक छात्र की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने छात्र को इलाज के लिये लोहिया हॉस्पिटल पहुंचाया जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

लखनऊ(ब्यूरो) यूपी की राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर एक्सटेंशन स्थित अलकनंदा अपार्टमेंट में गुरुवार दिनदहाड़े हुई हत्या की शुरुआती जांच में वजह जूनियर छात्रों से बीती रात हुआ विवाद बताया जा रहा है। देरशाम तक एक भी हमलावर पुलिस के हाथ नहीं लग सका है। मूल रूप से वाराणसी के बाबतपुर, गंगापुर का निवासी प्रशांत सिंह (25 वर्ष) बीबीडी टेक्निकल इंस्टीट्यूट में बीटेक थर्ड ईयर का स्टूडेंट था। बीते एक साल से वह Babu Banarasi Das University नहीं जा रहा था और कंपटीशन की तैयारी कर रहा था। वह फिलहाल गोमतीनगर के विजयखंड स्थित अपने मित्र आलोक के किराये के रूम में साथियों प्रशांत, सभय और विकास के साथ रहता था।

हमलावर कर रहे थे इंतजार

पुलिस के मुताबिक, गुरुवार दोपहर करीब 3 बजे अपार्टमेंट के गेट पर तीन युवक लाल रंग की बुलेट से पहुंचे जबकि, उनके 10-11 साथी रोड की दूसरी तरफ जाकर खड़े हो गए। बुलेट सवार युवकों ने अपार्टमेंट के गेट पर मौजूद सिक्योरिटी गार्ड अशोक कुमार से एम ब्लॉक के फ्लैट नंबर 506 में आयोजित बर्थडे पार्टी में जाने की बात कही। अशोक के मुताबिक, उसने फ्लैट नंबर 506 में फोन कर उन युवकों के आने की बात बताई। दूसरी ओर से बोल रही महिला ने वहां बर्थडे पार्टी होने से इंकार करते हुए युवकों को भीतर न भेजने की बात कही। जिसके बाद युवक गार्ड अशोक से भिड़ गए और उसे बैरियर न खोलने पर बैरियर तोडऩे की धमकी देने लगे।

इनोवा पहुंचते ही टूट पड़े

अभी उन युवकों की गार्ड अशोक से कहासुनी हो ही रही थी, इसी बीच वहां प्रशांत इनोवा (यूपी32सीटी/0995) पर सवार होकर वहां आ पहुंचा। अपार्टमेंट के एक रेजिडेंट के लिये गार्ड ने बैरियर खोला तो प्रशांत की इनोवा भी उसके साथ अपार्टमेंट में दाखिल हो गई। इनोवा में प्रशांत को बैठा देख युवक अशोक को छोड़ भागते हुए इनोवा के पीछे भागे और गेट के पास उसे रोक लिया। हमलावर युवकों ने ड्राइवर सीट के बगल में बैठे प्रशांत से शीशा खोलने को कहा। पर, प्रशांत ने शीशा नहीं खोला। इस पर हमलावर युवकों ने शीशा तोड़ दिया। अभी प्रशांत संभल पाता इससे पहले ही उनमें से एक युवक ने चाकू निकालकर प्रशांत के सीने में बायीं तरफ ताबड़तोड़ कई वार कर दिये।

हमलावरों ने मनाया जश्न

ताबड़तोड़ वार से प्रशांत के सीने से खून का फव्वारा फूट पड़ा। इसी बीच रोड के दूसरी ओर खड़े उन युवकों के बाकी साथी भी वहां आ पहुंचे और प्रशांत की हालत देख तालियां बजाकर जश्न मनाया। इसके बाद सभी हमलावर अपनी-अपनी बाइक पर बैठकर वहां से फरार हो गए। हमलावरों के फरार होने के बाद घायल प्रशांत इनोवा से बाहर निकला और दौड़ते हुए एम ब्लॉक की ओर भागा। जहां लिफ्ट के करीब पहुंचते ही वह औंधे मुंह गिर पड़ा। सिक्योरिटी गाड्र्स ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जानकारी मिलने पर पुलिस आनन-फानन मौके पर पहुंची और खून से लथपथ पड़े प्रशांत को तुरंत लोहिया हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बीती रात पार्टी में हुआ था विवाद

पुलिस के मुताबिक, प्रशांत के क्लासमेट आलोक का आज बर्थडे है। बीती रात आलोक, प्रशांत व अन्य छात्र सफेदाबाद, बाराबंकी स्थित नॉनवेज रेस्टोरेंट में आलोक की बर्थडे सेलिब्रेट करने गए थे। जहां किसी बात को लेकर प्रशांत व उसके जूनियर छात्र खीरी निवासी अर्पण शुक्ला से कहासुनी हो गई। देखते ही देखते विवाद हाथापायी तक जा पहुंचा। उस वक्त वहां मौजूद अन्य छात्रों ने किसी तरह दोनों को शांत कराया। लेकिन, अर्पण ने प्रशांत को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का मानना है कि हत्या के पीछे बीती रात पार्टी में हुआ विवाद ही वजह है। हालांकि, हमलावर असल में कौन थे, इसकी अब तक पुष्टि नहीं हो सकी है।

शुरुआती जांच में पता चला है कि सीनियर-जूनियर छात्रों के बीच बीती रात विवाद हुआ था। इसी को केंद्र में लेते हुए जांच की जा रही है।

सोमेन वर्मा डीसीपी, ईस्ट

Posted By: Shweta Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.