Magh Purnima 2020 : राशि अनुसार जल में ये सामग्री डाल कर दें अर्घ्य, मिलेगा उत्तम फल

2020-02-09T11:16:23Z

Magh Purnima 2020 : माघ मास शुक्लपक्ष की पूर्णिमा को माघी पूर्णिमा के नाम से जाना ताहा है। प्रात: काल सर्वप्रथम स्नान आदि से विष्णु का पूजन करें व पितरों का श्राद्ध करें।

Magh Purnima 2020 : इस वर्ष माघी पूर्णिमा 9 फरवरी 2020 के दिन हैं। तिल, कम्बल, कपास, गुड़, घी, फल व अन्न दान करें। व्रत करें या उपवास करके ब्राह्मणों को भोजन दान करें और कथा सुनें। असमर्थों को भोजन, वस्त्र और आश्रय दें। माघ मास का आखिरी स्नान पर्व महामाघी के रुप में मनाया जाता है। धर्मभक्तों के अनुसार महामाघी का फल सीधे इस बार युवाओं को और धर्मिक सनातन धर्म को मिलेगा, जो युवा लंबे समय से तरक्की का इंतजार कर रहे हैं। उनकी तरक्की होना तय है। प्रात: काल भुवन भास्कर सूर्य को अर्घ्य देकर उनसे लाभ मिलेगा। माघी पूर्णिमा के तीर्थ स्थलों या स्थान पर स्नान का अधिक महत्व है। इनमें भी काशी, उज्जैन, प्रयाग हरिद्वार का विशेष महत्व है।

फिलहाल जानें राशि अनुसार इस दिन कैसे अर्घ्य करें...

मेष : जल में रोली डाल के अर्घ्य दें।

वृष : जल में पुष्प डाल कर व जल में कपूर डाल कर अर्घ्य दें।

कर्क : जल में लाल चंदन डाल कर अर्घ्य दें।

सिंह : घी मिश्रित जल से अर्घ्य दें।

कन्या : गुड़ को जल में मिलाकर अर्घ्य दें।

तुला : जल में तिल डाल करके अर्घ्य दें।

वृश्चिक : अनार की पत्ती डाल कर अर्घ्य दें।

धनु : हल्दी जल में डाल कर अर्घ्य दें।

मकर : तिल मिला करके जल में अर्घ्य दें।

कुंभ : गुलाब का पुष्प और केसर डाल के अर्घ्य दें।

मीन : पीला चंदन डाल के अर्घ्य दें।

Posted By: Vandana Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.