जागरण कॉफी टेबिल बुक 'मेडिकल मसीहा' व 'मिरेकल मेडिकोज' ने बिखेरी चमक शानदार तरीके से हुआ व‍िमोचन

2018-05-21T12:25:19Z

संघर्ष के बाद मिली सफलता का जब सम्मान हुआ तो कानपुर और लखनऊ के मेडिकोज के चेहरे खिल उठे। मौका था जागरण कॉफी टेबिल बुक 'मेडिकल मसीहा' व 'मिरेकल मेडिकोज' के विमोचन कार्यक्रम का।

बातों से नहीं एक्शन से सुधरती हैं चीजें
lucknow@inext.co.in  
लखनऊ।
इसमें प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सिद्धार्थनाथ सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि मेडिकोज की सराहना करने के साथ उनसे राज्य सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करने की बात कही। कार्यक्रम को दैनिक जागरण के राज्य संपादक (यूपी) आशुतोष शुक्ल व आईएमए कानपुर के प्रेसीडेंट प्रवीन कटियार आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ. सिद्धार्थनाथ सिंह ने दैनिक जागरण की इस पहल की तारीफ करते हुए कहा कि यहां आने के बाद मुझे पता चला कि जागरण के बहुत से आम्र्स हैं। दैनिक जागरण एक भरोसे का नाम है। यह समय-समय पर हम लोगों को आईना भी दिखाता है। दैनिक जागरण की ओर से सामाजिक क्षेत्र में काम करने वालों के लिए कॉफी टेबल बुक निकाली जाती है तो इससे उनको हौसला मिलता है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर्स इस धरती के भगवान है। वो कभी किसी की जान नही ले सकते है। यह एक ऐसा प्रोफेशन है जिसमें बहुत परिश्रम है।

प्राइवेट और सरकारी तंत्र के बीच हम फंस गये

आप बहुत से लोगों के आइडियल हैं। हमें अपना गोल याद रखना चाहिए। प्राइवेट और सरकारी तंत्र के बीच हम फंस गये है। मैं इसको ठीक करने की लड़ाई लड़ रहा हूं। सिस्टम तभी अच्छा काम करेगा जब सरकारी और प्राइवेट सेक्टर दोनों कदम से कदम मिलाकर काम करेंगे। क्योंकि ताली एक हाथ से नहीं बजती है। हम बातें करते है मगर काम नहीं। अब काम करने की जरूरत है क्योंकि बातों से नहीं, एक्शन से चीजें सुधरती हैं। इस अवसर पर दैनिक जागरण के राज्य संपादक आशुतोष शुक्ल ने मेडिकोज की सराहना करते हुए कहा कि यह आपके अथक प्रयासों का नतीजा है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री की भी तारीफ करते हुए कहा कि प्रतिष्ठा क्या होती है, कोई इनके परिवार से सीख सकता है।

छोटे-छोटे देशों की रिसर्च को फॉलो करते
जागरण कॉफी टेबिल बुक के लेखक एवं सीनियर मैनेजर (जेसीटीबी) बेनुल तोमर ने कहा कि इन दोनों किताबों को बनाते वक्त मैंने अनुभव किया कि अपने वकील और डॉक्टर से कभी कुछ छिपाना नहीं चाहिए। यह मेरे लिए एक नया अनुभव है। वहीं आईएमए कानपुर के प्रेसीडेंट डॉ. प्रवीन कटियार ने मेडिकोज पर कॉफी टेबिल बुक के विमोचन को लेकर दैनिक जागरण परिवार को बधाई देते हुए कहा कि इसके जरिए हम आईएमए के कामों के बारे में लोगों को अवगत करा पाएंगे। वहीं कानपुर के डॉ.संजय कुमार गुप्ता ने कहा कि हमारे पास काबिल डॉक्टर हैं फिर भी हम छोटे-छोटे देशों की रिसर्च को फॉलो करते हैं। हमें खुद के रिसर्च वर्क पर ज्यादा फोकस करने की आवश्यकता है।
सदाबहार गीतों से महफिल हुई रोशन
इस मौके पर दैनिक जागरण के एसोसिएट वाइस प्रेसीडेंट (मार्केटिंग) मुदित गुलाटी ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि इस प्रोफेशन से जितनी उम्मीदें लोगों को होती हैं, उतनी किसी अन्य प्रोफेशन से नहीं। आप इस धरती के भगवान हैं। जागरण काफी टेबल बुक की लांचिंग पर गीतों से भी शाम ने आये हुए लोगों को आनंदित कर दिया। इस मौके पर दुबई, मुंबई, सिंगापुर समेत कई जगह पर परफॉर्मेंस दे चुके जाने माने सिंगर महबूब इंटरनेशनल ने अपनी सुरमधुर आवाज से लोगों को मदहोश कर दिया। उन्होंने सबसे पहले पुकारता चला हूं मैं गीत से लोगों का मनोरंजन किया इसके बाद उन्होंने ख्वाब हो तुम या कोई हकीकत, होठों से छू लो तुम व मेरे महबूब कयामत होगी समेत कई सदाबहार गीतों से महफिल को रोशन किया।

इंसपिरेशनल स्टोरी हुई  रेखांकित  
इस पुस्तक में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की ओर से सोसाइटी को दिए जा रहे योगदान के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। साथ ही कानुपर शहर के नौ अति विशिष्ट डॉक्टर्स को शामिल किया गया है। उनके द्वारा समाज को दिए गए योगदान, उनकी इंसपिरेशनल स्टोरी को रेखांकित गया गया है। उनकी सफलता और इस मुकाम तक पहुंचने की कहानी को विस्तार से बताया गया है।

इनको मिला सम्मान
कानपुर के डॉ. शिवाकांत मिश्रा (शिवानी हॉस्पिटल एंड आईवीएफ), डॉ. अतुल कपूर (रीजेंसी हॉस्पिटल), डॉ. अमल शंकर प्रसाद (कंसल्टिंग ऑर्थोपेडिक एंड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जन), डॉ. रवि कुमार (सीनियर कंसल्टेंट साइकियाट्रिस्ट), डॉ. सुबोध कुमार कटियार (चेस्ट केयर सेंटर), डॉ. उमेश पालीवाल (पालीवाल डायग्नोस्टिक), डॉ. राकेश कुमार सिंह (ग्लोबस हॉस्पिटल), डॉ. संजय कुमार गुप्ता (आभा सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल) और डॉ. आरएन द्विवेदी (द्विवेदी हॉस्पिटल)।

'मिरेकल मेडिकोस'

इस पुस्तक में बताया गया है कि डॉक्टर्स का प्रोफेशन कमाई का जरिया नहीं बल्कि मानवता की सेवा है। केजीएमयू, राम मनोहर लोहिया अस्पताल की विशिष्टताएं और आईएमए लखनऊ के योगदान सहित इस किताब में 12 अति विशिष्ट डॉक्टर्स को शामिल किया गया है। उनका सोसाइटी को योगदान के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।
इनको मिला सम्मान
लखनऊ की डॉ. गीता खन्ना व डॉ. अनिल खन्ना (अजंता हॉस्पिटल एंड आईवीएफ सेंटर), डॉ. दीपक दीवान (नेफ्रोलॉजिस्ट), डॉ. अभिषेक शुक्ला (आस्था सेंटर फॉर जेरियाट्रिक मेडिसिन, पेलिएटिव केयर हॉस्पिटल), डॉ. अभिनव सिंह (डेंटल केयर क्लीनिक), डॉ. आमोद कुमार सचान व रिचा सचान (शेखर हॉस्पिटल एंड हिंद मेडिकल कॉलेज), डॉ. राकेश जलोटा (नॉन इंटरवेंशनल सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट), डॉ. कैलाश नारायन सिंह (मेयो हॉस्पिटल), डॉ. मनोज श्रीवास्तव (कैंसर क्लीनिक), डॉ. रतन कुमार सिंह (चरक हॉस्पिटल), डॉ. गिरीश गुप्ता (गौरांग क्लीनिक एंड सेंटर फॉर होम्योपैथिक रिसर्च), डॉ. संदीप गर्ग व डॉ. संदीप कपूर (हेल्थ सिटी हॉस्पिटल) और डॉ. सुधीर श्रीवास्तव (सन आई हॉस्पिटल)।
ये भी रहे मौजूद
दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के सीओओ आलोक सांवल, दैनिक जागरण लखनऊ के जनरल मैनेजर जेके द्विवेदी, दैनिक जागरण आई-नेक्स्ट की डिप्टी एडिटर शर्मिष्ठा शर्मा, सुमित रघुनाथ, जीएम, मार्केटिंग दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट, दैनिक जागरण आईनेक्स्ट लखनऊ के संपादकीय प्रभारी धर्मेंद्र सिंह, दैनिक जागरण के जनरल मैनेजर (मार्केटिंग) कपिल जायसवाल, विशेष सचिव पीडब्ल्यूडी राजशेखर, डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर प्रवीण कुमार त्रिपाठी, रीजनल पासपोर्ट अफसर पीयूष वर्मा, एएसपी एसटीएफ डॉ. त्रिवेणी सिंह आदि मौजूद थे।

कर्नाटक : कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में जाएंगे अखिलेश, इन नेताओं का नाम भी है चर्चा में

वो मौके जब अनोखे अंदाज में कैमरे में कैद हुए थे पूर्व प्रधानमंत्री, बेहद खास हैं राजीव गांधी की ये 10 तस्वीरें


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.