Meenakshi Mureder Case बरकरार है प्‍यार का नशा

2012-07-13T17:35:46Z

Allahabad पत्नी को छोडऩे के बाद अमित ने सिर्फ प्रीति सुरीन को जाना कॅरियर की शुरुआत से लेकर मर्डर तक के आरोपी दोनों साथ ही बने अब जेल में हैं दूर हैं फिर भी प्यार का नशा जस का तस बरकरार है

उसे अपनी चिंता कम प्रीति की चिंता ज्यादा है तभी तो उसने मिलने के लिए मुंबई जेल पहुंचे फैमिली मेम्बर्स से कह दिया, पहले प्रिति की जमानत करवाओ फिर मेरी जमानत के बारे में सोचना. दरअसल, प्रीति की जमानत कराने वाला कोई नहीं है और पिता ने भी उससे मुंह मोड़ लिया है.
 
दो महीने से है जेल में

एक्ट्रेस मीनाक्षी थापा की हत्या करने के मामले में फाफामऊ का रहने वाला अमित जायसवाल मुम्बई जेल में बंद है. अमित के साथ ही इस मर्डर केस में उसकी प्रेमिका प्रीति सुरीन भी पकड़ी गई थी. प्रीति भी मुम्बई में जेल में बंद है. पुलिस और दुनिया की नजर में भले ही आज अमित मुल्जिम है और उसे सभी दोषी मानते हैं. लेकिन, एक बेटे को उसके मां-बाप कैसे छोड़ सकते हैं. जब तक कोर्ट उन्हें दोषी नहीं करार देती. मां-बाप का यही प्यार उन्हें मुंबई तक खींच ले गया. वे जेल जाकर अमित से मिले.

ऐसे जवाब की नहीं थी उम्मीद
पुलिस सोर्सेज की मानें तो अमित के घर वाले उसकी जमानत कराने की कोशिश में लगे हैं. इसी सिलसिले में वे अमित से मिलने गए थे. अमित से उनका आमना-सामना हुआ तो उसका जवाब सुनकर वे दंग रह गए. पुलिस की मानें तो अमित ने कहा कि उसकी जमानत कराने से पहले प्रिति सुरीन की जमानत का बंदोबस्त कराओ. प्रिति के जमानत पर छूटकर आने से पहले वह अपनी जमानत नहीं कराना चाहता. यह सुनकर घर वाले भी स्तब्ध रह गए.

सजा दिलाने की तैयारी
दूसरी ओर मुम्बई क्राइम ब्रांच अमित और प्रीति को मीनाक्षी मर्डर केस में सजा दिलाने की तैयारी में जुटी है. सूत्रों के अनुसार पुलिस जल्द ही इस मर्डर केस में चार्जशीट दाखिल करने वाली है. क्राइम ब्रांच ने एविडेंस मजबूत बनाने के लिए न सिर्फ ग्राउंड वर्क किया है बल्कि साइंटिफिक एविडेंस भी इकट्ठा किए हैं. उसने पब्लिक को भी इस मामले में साक्षी बनाया है ताकि कोई गवाह कोर्ट में बयान से मुकर न जाए.

क्या था मामला
देहरादून की रहने वाली एक्ट्रेस मीनाक्षी थापा का भाई नवराज मिलिट्री में जॉब करता है. उसकी फैमिली देहरादून में ही शैटिल्ड है. मीनाक्षी बॉलीवुड में अपना कॅरियर बनाना चाहती थी. उसने हिन्दी मूवी बंगला नंबर 404 में छोटा सा रोल किया था. इसके बाद उसे मधुर भंडारकर की मोस्ट अवेटेड मूवी हिरोइन में भी रोल मिल गया था. मार्च में अचानक मीनाक्षी गायब हो गई. 18 मार्च को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई. भाई नवराज की खोजबीन में लगा रहा और पुलिस ऑफिसर्स से मिलकर केस की जांच क्राइम ब्रांच से कराने की परमिशन करा दी. क्राइम ब्रांच सबूतों के आधार पर इलाहाबाद पहुंची और फिर अमित और प्रिति की निशानदेही पर दरभंगा कालोनी स्थित प्रिति के घर के समीप स्थित सेप्टिक टैंक से मीनाक्षी की सिर कटी बॉडी बरामद की. तभी से दोनों जेल में हैं.

Report by- Piyush Kymar


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.