प्रियंका में इंदिरा देखने उमड़ी जनता राहुल ने बच्चों को दी फ्लाइंग किस तो प्रियंका ने झुकाया सिर

2019-02-12T11:38:25Z

प्रियंका गांधी के रोड शो में उमड़ी भीड़ उनमें उनकी दादी इंदिरा की छवि देखने को आतुर थी

- प्रियंका और राहुल गांधी ने किया राजधानी में मेगा रोड शो

- लंबे अर्से के बाद कांगे्रस की सड़कों पर दिखी ताकत

- रोड शो में राहुल ले लगवाए 'चौकीदार चोर है' नारे

ashok.mishra@inext.co.in
LUCKNOW : चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट में उतरते ही राहुल गांधी के हाथ में राफेल फाइटर प्लेन बना एक स्टिकर था, इसे देख कांग्रेस कार्यकर्ता जोश में नारे लगाने लगे 'चौकीदार चोर है', और शुरू हो गया करीब 18 किमी का राहुल और प्रियंका गांधी का मेगा रोड शो. पंजाब से मंगाए गये रथ पर सवार होकर जैसे ही काफिला आगे बढ़ा, शहर की पब्लिक प्रियंका गांधी में उनकी दादी इंदिरा गांधी की झलक देखने उमड़ पड़ी. प्रियंका बेहद गर्मजोशी से साथ मुस्कराते हुए चारों तरफ से अभिवादन स्वीकार कर रही थी. रास्ते में सौ जगहों पर सजे स्वागत मंचों पर माइक से सिर्फ प्रियंका और राहुल गांधी का नाम ही गूंज रहा था. खासकर मुस्लिम समुदाय और महिलाओं में प्रियंका का जादू सिर चढ़कर बोल रहा था. करीब पांच घंटे के इस रोड शो ने यह भी संकेत दे दिया कि यूपी में कांग्रेस मजबूती के साथ लड़ने जा रही है और भाजपा के अलावा बाकी दलों के समीकरणों को बिगाड़ने की नींव रख दी गयी है.

एसपीजी की भी हालत हुई खराब
अपनी सियासी पारी का आगाज करने के बाद बतौर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव पहली बार राजधानी आई प्रियंका का क्रेज पब्लिक के सिर चढ़कर बोल रहा था. हजारों समर्थकों और सैंकड़ों चौपहिया और दोपहिया गाडि़यों का काफिला उनके रथ के साथ चल रहा था. फूलों की बारिश से एयरपोर्ट से कांग्रेस दफ्तर तक का रास्ता पट गया था तो प्रियंका और राहुल को बुके देने वाले एसपीजी की घेराबंदी की परवाह किए बिना उनकी ओर बढ़ते जा रहे थे. मवैया रेलवे अंडरपास में पुल की कम ऊंचाई और बर्लिग्टन चौराहे पर बिजली के तारों ने उनके रास्ते में रुकावट डालने की कोशिश की पर उनका सफर जारी रहा. बर्लिग्टन चौराहे पर जब रथ आगे बढ़ने में नाकाम रहा तो सुरक्षा घेरा बनाकर सारे नेताओं को उतारा गया जिसके बाद राहुल, प्रियंका और ज्योतिरादित्य एसयूवी में सवार होकर आगे बढ़े. इसके बाद एसपीजी की मुश्किलें और बढ़ गयी क्योंकि कांगे्रस कार्यकर्ता और समर्थक एसयूवी के बेहद नजदीक आ गये थे. किसी तरह यह काफिला लालबाग की ओर बढ़ा जहां राहुल ने माइक लेकर संबोधन किया.

शर्मा की चाय की चुस्कियां भी
लालबाग स्थित नॉवेल्टी चौराहे आने पर प्रियंका और राहुल का स्वागत शर्मा की चाय से किया गया जिससे वहां करीब 15 मिनट तक काफिला रुका रहा. आगे बढ़ने पर कैथेड्रल चर्च पर नंगे बदन कुछ समर्थक खड़े थे जिनके सीने पर 'चौकीदार चोर है' लिखा था. इसके बाद उन्होंने हजरतगंज चौराहे आने पर महापुरुषों की मूर्तियों पर माल्यार्पण किया जिसके बाद उनका काफिला राजभवन और वीवीआईपी गेस्ट हाउस होते हुए कांग्रेस दफ्तर की ओर बढ़ गया.

बच्चों को दी फ्लाइंग किस
आलमबाग में रथ जैसे ही चौराहे के नजदीक पहुंचा, बाइक पर सवार एक बच्ची ने राहुल गांधी को देख जोर से आवाज दी. कार्यकर्ताओं की नारेबाजी में भी राहुल ने उसकी आवाज सुन ली और उसको एक फ्लाइंग किस देकर मुस्करा दिए. इसी तरह रथ के करीब आ गयी एक स्कूटी पर पीछे सवार बच्ची खड़ी हो गयी और उसने प्रियंका को बुलाना शुरू कर दिया. प्रियंका ने नीचे झुककर उससे बात की.

एसयूवी से टूटी सिक्योरिटी वॉल
बर्लिग्टन चौराहे पर बिजली के तारों से हुए व्यवधान के बाद जैसे ही प्रियंका और राहुल एसयूवी में सवार हुए, सारी सुरक्षा दीवारें ध्वस्त हो गयी. तमाम समर्थक प्रियंका और राहुल से हाथ मिलाने के लिए एसयूवी के पास आ गये. उन्होंने भी तमाम लोगों से हाथ मिलाकर उनका दिल जीतने की कोशिश की. हालांकि एसपीजी को लोगों को हटाने में खासी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि काफिले की सारी गाडि़यां आगे नहीं बढ़ पा रही थी.

दोस्ती पर भारी भाई-बहन की जोड़ी
सोमवार को हुए इस मेगा रोड शो से यह भी साफ हो गया कि यूपी की सियासत में दोस्ती से ज्यादा भारी भाई-बहन की जोड़ी साबित होगी. विधानसभा चुनाव के दौरान गठबंधन करने वाले राहुल और अखिलेश के हजरतगंज से चौक तक के रोड शो में इतनी भीड़ नहीं उमड़ पाई थी जितनी आज प्रियंका के आने के बाद नजर आई. एयरपोर्ट से लेकर माल एवेन्यू तक लाखों लोग प्रियंका की एक झलक पाने और उनकी फोटो अपने मोबाइल पर कैद करने को बेचैन दिखे.

- 500 से ज्यादा चौपहिया वाहन थे मेगा रोड शो में

- 1000 से ज्यादा दोपहिया वाहन चल रहे थे साथ

- 100 से ज्यादा जगहों पर प्रियंका, राहुल का स्वागत

- 05 घंटे तक चला रोड शो

- 18 किमी की दूरी की तय

टाइमलाइन

12:50 बजे - एयरपोर्ट

1:15 बजे - एयरपोर्ट से रवानगी

2:35 बजे - अवध चौराहा

3:03 बजे - मवैय्या चौराहा

3:29 बजे - बर्लिग्टन चौराहा

3:50 बजे - लालबाग चर्च

4 :00 बजे - नावेल्टी चौराहा

4:20 बजे - हजरतगंज चौराहा

4:50 बजे - राजभवन के सामने

5:12 बजे - लॉरेटो स्कूल

5:35 बजे - कांग्रेस पार्टी कार्यालय


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.