नारा लेखन एवं मेंहदी प्रतियोगिता में दिखाया जोश

2015-02-05T07:00:45Z

पर्यावरण मित्र संस्था ने सिखाए छात्राओं को कचरा प्रबंधन के तरीके

शिकोहाबाद : बीडीएम कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की दोनों इकाइयों का संयुक्त शीतकालीन शिविर ग्राम जसलई में आयोजित किया गया है। जिसके चौथे दिन पर्यावरण मित्र संस्था के तत्वाधान मेंवृक्ष का मानव जीवन में महत्वविषय परनारा लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया। जिसमें स्वंय सेविकाओं ने जोर शोर से भाग लिया एवंबाल श्रम विरोध विषय पर एक विचार गोष्ठी का भी आयोजन किया।

कचरा प्रबंधन सिखाया

इस अवसर पर पर्यावरण मित्र अध्यक्षा किरण बजाज ने अपने टेलीफोनिक संदेश में उपस्थित छात्राओं को कचरा प्रबन्धन, जलसंचयन, स्वच्छता ही भगवत्ता है इत्यादि के बारे में बताया। शिविर में कचरा प्रबन्धन पर शशिकान्त पांडे द्वारा कचरे का डेमोस्ट्रेशन प्रस्तुत किए गया। ग्रामीण स्वच्छता की महत्ता पर वार्ता करते हुए, शौचालय बनाने की सस्ती तकनीक, नाली निर्माण एवं वर्षा जलसंचयन की विधि के बारे में बताया गया। इसके अतिरिक्त शिविर में पीपीटी के माध्यम से कचरा प्रबन्धन, पी.एम.एवी ग्लोबल वार्मिंग प्रजेन्टेशन दिया गया।

महिलाएं हों आत्मनिर्भर

इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अन्तर्गत महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर करने के लिएस्वरोजगारके प्रतीक स्वरूप मेंहदी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें साक्षी अग्रवाल,शैलजा,नेहा एवं दीप्ती विजयी रही। कार्यक्रम में प्राचार्या डा। कान्ता श्रीवास्तव, योजनाधिकारी डा। शमामा मिर्जा, श्रीमती दर्शना कुमारी, मोहित ने भी स्वयं सेविकाओं को सम्बोधित किया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.