आखिर पकड़ा गया खूंखार बंदर

2017-10-23T07:00:21Z

दरभंगा और मेडिकल कॉलेज एरिया में दो दर्जन लोगों को बना चुका था शिकार

ALLAHABAD: पिछले कई दिनों से मेडिकल कॉलेज एरिया से लेकर दरभंगा कॉलोनी तक उत्पात मचाने वाला खूंखार बंदर रविवार को पकड़ लिया गया। उसे जानवरों के एक्सपर्ट ने काफी मशक्कत के बाद धर दबोचा। बता दें कि पिछले दिनों दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट द्वारा बंदर के हमले की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की गई थी। इसके बाद स्थानीय लोगों ने उसे दबोचने की कवायद शुरू कर दी।

टारजन ने दिखाया कमाल

कर्नलगंज वार्ड के पूर्व पार्षद आनंद घिल्डियाल आनू ने दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट की खबर पर इनीशिएटिव लेते हुए बंदर को पकड़ने की कवायद तेज कर दी थी। इसके लिए जानवर पकड़ने के लिए एक्सपर्ट डिग्रीधारी वीके मिश्र उर्फ वीके टारजन की सेवाएं ली गई। लगातार पांच-छह दिनों की मशक्कत के बाद रविवार सुबह बंदर को दरभंगा कॉलोनी में पकड़ा जा सका। उसे जूस में नींद गोलियां देकर काबू किया गया।

घरों से निकलने में डरते थे लोग

बंदर ने कई दिनों से लोगों को परेशान कर रखा था। कैसल कालोनी, दरंभगा कॉलोनी सहित मेडिकल कॉलेज कैंपस और आसपास के एरिया में दो दर्जन लोगों को उसने काटा था और कइयों को चोटें भी आई थीं। घायलों में एमबीबीएस के तीन छात्र भी शामिल थे। बंदर के उत्पात के चलते कॉलेज कैंपस में बच्चे भी घर से बाहर निकलने में डरने लगे थे। रविवार को उसके पकड़े जाने पर लोगों ने राहत की सांस ली। आनंद घिल्डियाल ने बताया कि लगातार लोगों की शिकायत आ रही थी। चूंकि प्रभावित एरिया उनके वार्ड के अंतर्गत आता है इसलिए लोगों की सुरक्षा के लिए तत्काल प्रभावी कदम उठाए गए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.