168 दिन बाद खुला स्मारकों का ताला, ताजमहल और आगरा किला फिलहाल बंद

Updated Date: Tue, 01 Sep 2020 01:27 PM (IST)

ताजनगरी में स्मारकों पर लगा ताला 168 दिन की बंदी के बाद मंगलवार सुबह खुल गया। फतेहपुर सीकरी एत्माद्दौला सिकंदरा मेहताब बाग रामबाग मरियम टॉम्ब खुल गए हैं। ताजमहल और आगरा किला नहीं खुले हैं। उप्र सरकार की साप्ताहिक बंदी के चलते शनिवार व रविवार को फिलहाल स्मारक बंद रहेंगे।


आगरा (ब्यूरो)। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के चलते भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने एहतियात बरतते हुए 17 मार्च से देशभर में सभी स्मारक बंद कर दिए थे। अनलॉक-टू में 6 जुलाई को देशभर में सभी स्मारक खुल गए थे, लेकिन आगरा में जिला प्रशासन ने इसकी अनुमति प्रदान नहीं की थी। मंगलवार से आगरा में ताजमहल व आगरा किला को छोड़कर सभी स्मारक खुल गए। एएसआई ने कोविड-19 के चलते स्मारकों को खोलने के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) में कैरिंग कैपेसिटी लागू की है। एसओपी के अनुसार मंगलवार से खुले स्मारक में एक दिन में अधिकतम दो हजार सैलानी (एक-एक हजार के सुबह व दोपहर के स्लॉट) में प्रवेश कर सकेंगे। स्मारकों पर टिकट विंडो बंद रखी गयी हैं। टिकट ऑनलाइन बुक होंगी। सोमवार को एएसआई द्वारा स्मारकों पर आवश्यक इंतजाम किए गए। थर्मल स्क्रीनिंग, हाथों को सेनेटाइज कराने और रजिस्टर में ब्यौरा दर्ज करने के बाद ही पर्यटकों को स्मारक में प्रवेश दिया गया। मेहताब बाग पर सुबह ताज के दीदार को पर्यटक पहुंचे। उप्र में शुक्रवार रात 10 से सोमवार सुबह पांच बजे तक 55 घंटे की साप्ताहिक बंदी लागू है। इसके चलते शनिवार व रविवार को स्मारक बंद रहेंगे।यह नियम रहेंगे लागू
- स्मारकों में प्रवेश को ऑनलाइन टिकट बुक करनी होंगी। पाॄकग समेत सभी भुगतान डिजिटल पेमेंट से करने होंगे।- शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना होगा। पर्यटकों को मास्क और फेस कवर लगाना अनिवार्य होगा।- पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। बिना लक्षण वाले पर्यटक ही स्मारक में प्रवेश पा सकेंगे।- स्मारक के रजिस्टर में प्रत्येक पर्यटक का ब्यौरा उसके शरीर के तापमान के साथ दर्ज किया जाएगा।- स्मारक में ग्रुप फोटोग्राफी की अनुमति नहीं होगी।- वैध लाइसेंस धारक गाइड और फोटोग्राफर स्मारकों में काम कर सकेंगे।- स्मारक में खाने का सामान नहीं ले जाया जा सकेगा।स्मारकों में बिना मास्क के किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा। टिकट केवल ऑनलाइन बुक होगा। वेबसाइट के साथ स्मारकों पर क्यूआर कोड स्कैन कर टिकट बुक कर सकते हैं। सभी स्मारकों पर स्टैंडी लगाए गए हैं।-वसंत कुमार स्वर्णकार, अधीक्षण पुरातत्वविद, आगरा सर्कलagra@inext.co.in

Posted By: Agra Desk
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.