Movie Review Kai Po Che

2013-02-22T13:58:37Z

एक और अच्छी और स्ट्रांग फिल्म इस वीक सिनेमाहाल्स में नजर आने जा रही है चेतन भगत के नॉवल थ्री मिस्टेक्स ऑफ माई लाइफ पर बेस्ड काई पो चे कई मायने में एक बेहतरीन फिल्म है

बर्लिन फिल्म फेस्टिवल में काफी एप्रीशिएशन हासिल करने के बाद अब काई पो चे रिलीज के लिए रेडी है. ट्यूजडे को मुंबई में बॉलिवुड स्टार्स के लिए फिल्म का स्पेशल प्रीमियर रखा गया. सभी सीनियर स्टार्स और रिनाउंड डायरेक्टर्स ने फिल्म की तारीफ करते हुए इसे बेहतरीन फिल्म बताया है.
 

तीन दोस्तों की बॉडिंग और र्स्टगल की यह कहानी बेहद खूबसूरती से बुनी गयी है. आमतौर से किसी नॉवल पर बेस्ड फिल्मों का पिक्चराइजेशन असल कहानी की तरह इंप्रेसिव नहीं बन पाता. लेकिन काई पो चे इस मामले में एक्सेप्शेन कही जा सकती है. फिल्म में वो सब कुछ है जो आज की जेनेरेशन के मिजाज, उसकी र्स्टगल और उसके ड्रीम्स को प्रोजेक्ट कर सकता है.
 
ईशान भट्ट (सुशांत सिंह राजपूत) का सपना है एक शानदार क्रिकेटर बनना और इंडिया को रिप्रेजेंट करना पर सिचुएशंस उसे उसके ड्रीम से दूर खींच लेती हैं और उसके फादर भी उससे नाराज होते हैं. ओमी शास्त्री  (अमित साध) एक पुजारी का बेटा है जिसे आदर्शों की कसौटी पर हर पल खुद को परखना और कसना पड़ता है. धर्म और सामान्य इच्छाओं के बीच की एक निरंतर लड़ाई उसे उलझाती रहती है.  तीसरा दोस्त है गोविंद (राजकुमार यादव) जिसका कोई बड़ा ख्वाब नहीं है और वो बच्चों  को ट्यूशन देने के साथ डिफरेंट टाइप के जॉब करता रहता है ताकि अपना खर्च चला सके. यह तीनो दोस्त मिल कर साबरमती स्पोर्टस क्लब नाम की एक शॉप शुरू करते हैं जो उन्हें ओमी के पॉलिटीशियन अंकल से हांसिल हुई है. यहां गोविंद र्स्पोटस गुड की सेलिंग की रिस्पांसिबिलिटी संभालता है तो ईशान बच्चों को क्रिकेट की कोचिंग देता है. यहीं से शुरू होती है धर्म, पॉलिटिक्स और खेल के घालमेल की कहानी जो अंत तक लोगों को अपने साथ बहाती ले जाती है.
 
फिल्म में एक अंडरकरेंट छोटी सी लव स्टोरी भी है जो ईशान की छोटी बहन विद्या (अमृता पुरी) और गोविंद के बीच चलती रहती है. फिल्म में कुछ भी एक दूसरे का हिस्सा नहीं है पर फिर भी एक के बिना दूसरे की कहानी पूरी नहीं होती. आर्यन और रॉक ऑन जैसी फिल्में डायरेक्ट कर चुके अभिषेक कपूर इस फिल्म और भी ज्यादा मंझे हुए दिखते हैं फिल्म पूरी तरह से उनकी पकड़ में है. स्क्रिप्ट कसी हुई है और म्यूजिक फिल्म के साथ चलता है और उसका पार्ट है.
 
टीवी से फिल्मों में मूव करने वाले अमित और सुशांत सिंह राजपूत ने शानदार परफारमेंस दी है और अपने सलेक्शन पर खरे उतरे हैं. गोविंद के रूप में राजकुमार ने बेहतरीन काम किया है और उनकी मासूम बिलवेड के रोल में अमृता ने भी अपना काम ईमानदारी से किया है. कुल मिलाकर काई पो चे हर एज ग्रुप के लिए एक मस्ट वाच फिल्म है.
 
Cast: Sushant Singh Rajput, Amit Sadh, Raj Kumar Yadav, Amrita Puri
Director: Abhishek Kapoor


Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.